comScore

नकली आइसक्रीम फैक्टरी मालिक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

नकली आइसक्रीम फैक्टरी मालिक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

डिजिटल डेस्क, कटनी। दूषित एवं मिलावटी खाद्य पदार्थों के विरुद्ध प्रदेश सरकार के निर्देश पर चलाए जा रहे व्यापक अभियान के तहत कटनी में जिला प्रशासन ने बड़ी कार्यवाही करते हुए नकली आइसक्रीम फैक्टरी संचालक के विरुद्ध माधवनगर थाने में एफआईआर दर्ज कराई। अभी तक केवल जांच के लिए खाद्य पदार्थों के नमूने ही लिए जा रहे थे, लेकिन नकली खाद्य पदार्थ पर जिले में पहली एफआईआर दर्ज होने से मिलाटवखोरों में हड़कम्प मचा है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी देवेन्द्र दुबे की शिकायत पर माधवनगर पुलिस ने बरगवां निवासी आशीष पांडेय के विरुद्ध धारा 420 आईपीसी के तहत धोखाधड़ी का अपराध दर्ज किया है।

कंपनी के अधिकारी पहुंचे थाने

जांच दल के अधिकारियों द्वारा तस्दीक में पाया गया था कि सांची के उत्पाद बनाने या विक्रय के लिए मध्यप्रदेश दुग्ध संघ जबलपुर मुख्यालय द्वारा कटनी जिले में किसी भी व्यक्ति या संस्था को अनुबंधित नहीं किया गया है। सूचना प्राप्त होने पर सांची दुग्ध संघ जबलपुर के द्वारा भी थाना आधारताल में संबंधित के विरुद्ध शिकायत दर्ज कराई गई है। वहीं सोमवार को सांची कंपनी जबलपुर के संयंत्र संचालक अरुण चौधरी व एसपीओ अशोक यादव ने माधवनगर थाने पहुंचकर जानकारी दी कि सांची द्वारा आइसक्रीम नहीं बनाई जाती। थाना प्रभारी संजय दुबे को जानकारी देते हुए फरियादियों ने बताया कि उनकी कंपनी के नाम का गलत उपयोग किया जा रहा था।

रविवार को हुई छापामारी

उल्लेखनीय है कि कलेक्टर शशिभूषण सिंह के निर्देशन में जिले में मिलावटी, नकली और दूषित खाद्य पदार्थ बनाने और विक्रय करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इसी तारतम्य में रविवार को एसडीएम बलबीर रमन के नेतृत्व में खाद्य और औषधि सुरक्षा, राजस्व सहित पुलिस दस्ते ने बरगवां में संचालित पांडेय आइसक्रीम फैक्ट्री में छापा मारा था।

दो दुकानों से लिए नमूने

कश्मीर खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग ने सोमवार को भी जांच कार्यवाही जारी रखा। लमतरा स्थित हीरा होम इंडस्ट्रीज में डायमंड कंपनी के मिक्स और आम के आचार के नमूने लिए गए। कुठला के बीकानेर स्वीट्स के फैक्ट्री से मावा और छेने के रसगुल्ले के नमूने लिए गए। अब तक करीब 32 नमूने लिए गए हैं।

कमेंट करें
e3QRt