comScore

अंगदान करना चाहते हैं या नहीं , ड्राइविंग लाइसेंस बनवाते समय बताना होगा

अंगदान करना चाहते हैं या नहीं , ड्राइविंग लाइसेंस बनवाते समय बताना होगा

डिजिटल डेस्क, दमोह। अब शीघ्र ही लोगों को अपने ड्राइविंग लाइसेंस बनवाते समय भविष्य में अंगदान करने या नहीं करने का निर्णय बताना होगा । इस नई व्यवस्था के तहत परिवहन कार्यालय मैं यह व्यवस्था प्रारंभ हो रही है । इस व्यवस्था के तहत अंगदान को बढ़ावा देने के लिए परिवहन विभाग द्वारा अब ड्राइविंग लाइसेंस के फार्म में अंगदान की सहमति और असहमति का कालम जोड़ा जा रहा है । इससे आवेदक को भविष्य में अंगदान यदि करना चाहता है तो हां और यदि नहीं करना चाहता तो ना की जानकारी देना होगी ।इससे हादसे या अन्य कारणों से लाइसेंस धारक की मृत्यु होने पर पुलिस प्रशासन या अन्य एजेंसी को उसके अंग दान की मंजूरी की जानकारी मिल जाएगी यह योजना 1 अक्टूबर से प्रारंभ हो रही है । इस योजना के लिए परिवहन विभाग द्वारा स्मार्ट चिप कंपनी के अधिकारियों के साथ संपूर्ण रूपरेखा भी बनाई गई है।

3 वर्षों में 2 लोगों ने किया अंगदान 

उल्लेखनीय है कि अभी तक अंगदान करने के मामले में लाखों लोगों में एकाध मामला ही सामने आता था दमोह जिले में पिछले 3 वर्षों में 2 लोगों द्वारा अपना अंगदान मेडिकल कॉलेज जबलपुर में दिया गया इस बात की आम नागरिकों द्वारा काफी प्रशंसा भी की गई लेकिन इस प्रकार की स्थितियां बहुत कम ही निर्मित होती हैं जब लोग अंगदान जैसे करने के निर्णय में आगे आते हैं इन्हीं सब कारणों के चलते परिवहन विभाग द्वारा इस प्रकार ड्राइविंग लाइसेंस के फार्म में अंगदान करने का कालम भी प्रारंभ किया जा रहा है जिससे इस प्रकार की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए लोग प्रोत्साहित होंगे 

इनका कहना है 

इस योजना से जहां अंगदान को बढ़ावा मिलेगा वही उन लोगों को लाभ होगा जिन्हें जीवन में कुछ घटनाओं के बाद अपने अंगों को खोना पड़ता है।  

गोविंद राजपूत मंत्री परिवहन विभाग मध्य प्रदेश शासन
 

Loading...
कमेंट करें
TtRpw