comScore

देवेंद्र चोरसिया हत्याकांड : बंद रहा हटा ,विधायक पति गोविंद सिंह पर कार्रवाई की मांग 

देवेंद्र चोरसिया हत्याकांड : बंद रहा हटा ,विधायक पति गोविंद सिंह पर कार्रवाई की मांग 

डिजिटल डेस्क, हटा । देवेंद्र चोरसिया हत्याकांड में आरोपी बसपा विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह की गिरफ्तारी एवं पूरक चालान पेश करने सहित अन्य मांगों को लेकर चोरसिया परिवार द्वारा आयोजित हटा बन्द शत प्रतिशत सफल । छुटपुट दुकानों को छोड़कर हटा चारों खूंट बन्द रहा । गौरतलब है कि पुलिस ने पहले गोविंद सिंह को आरोपी बनाया था और उसकी गिरफ्तारी पर 25 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया किंतु फिर इनाम की घोषणा वापस लेकर पुन: जांच किए जाने की बात की जाने लगी । इसी के विरोध में चौरसिया परिवार द्वारा सोमवार से धरना प्रारंभ किया गया और आज बंद का आव्हान कर हटा बंद रखा ।
 

दिखे थे विधानसभा में - बैठे धरना पर 

हटा के कांग्रेस कार्यकर्ता देवेंद्र चोरसिया की हत्या के आरोपी गोविंद सिंह के मप्र विधानसभा में घूमने के बाद उठे विवाद में एसपी दमोह द्वारा उसकी गिरफ्तारी पर घोषित इनाम खारिज करने की घोषणा से मृतक देवेंद्र चोरसिया के परिवार आक्रोशित हो गया,एवं गोविंद सिंग के पक्ष में उसकी बिधायक पत्नी रामबाई द्वारा कमलनाथ सरकार द्वारा हत्या के प्रकरण से गोविंद सिंह का नाम खारिज करने के प्रयासों के बीच सोमवार को देवेंद्र की पत्नी संध्या चोरसिया,पुत्र सोमेश चोरसिया ने परिवार सहित एक दिवसीय अनशन किया था ।  मंगलवार को हटा बन्द का आवाहन किया था जिसे नगर के सभी व्यापारिक, सामाजिक,सांस्कृतिक संगठनों ने समर्थन दिया ।  हटा की सब्जी भाजी,चाय पान की छुट पुट दुकानों को छोड़कर हटा पूर्णत: बन्द रहा था । दुकानदारों ,नगरवासियोंं ने मंदिर मस्जिद चौराहा पहुंचकर बन्द को पूर्ण समर्थन देकर देवेंद्र चोरसिया के हत्यारों को सजा दिलाने की मांग का समर्थन भी किया ।

ज्ञापन सौंपा

एक जुलूस के रूप में सैकड़ों लोग एस डी एम कार्यालय पहुंचे जहां महामहिम राज्यपाल को संबोधित 3 पेज का ज्ञापन तहसीलदार श्रीमती ज्योति ठाकुर को सौंपा ।  ज्ञापन में घटना का बिंदुवार व्योरा देकर मांग की गई है कि प्रकरण के शेष आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी कर पूरक चालान न्यायालय में पेश किया जाए । देवेंद्र की हत्या का षड्यंत्र रचने वाले बिधायक रामबाई एवं जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल के मोबाइल काल डिटेल की जांच की जाए । मांगों की पूर्ति न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी गयी है। इस दौरान दवेन्द्र के भाई महेश,संजू,अशोक,प्रवीण,के अलावा प्रदीप सेठ,राजा खान,इमरान बजाज,नव्वु जैन,सहित सैकड़ों नगरबासी उपस्थित थे।
 

कमेंट करें
VbK7w