comScore

दस दिन से यूरिया के लिए भटक रहे किसान, सहायक प्रबंधक चाबी लेकर फरार

September 10th, 2019 14:06 IST
दस दिन से यूरिया के लिए भटक रहे किसान, सहायक प्रबंधक चाबी लेकर फरार

डिजिटल डेस्क कटनी। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के चना की कालाबाजारी में फंसे सहायक समिति प्रबंधक द्वारा सोसायटी की चाबी लेकर फरार होने से उपभोक्ताओं को खाद्यान्न का वितरण नहीं हो पा रहा है वहीं किसान खाद यूरिया के लिए भटक रहे हैं। शासकीय छात्रावास में पिछले छह माह से खाद्यान्न   का आवंटन नहीं होने से अधीक्षक उधार लेकर छात्रों के लिए भोजन की व्यवस्था कर रहा है। धोखाधड़ी के आरोपी सहायक प्रबंधक पर विभागीय अधिकारी कितने मेहरबान है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सहकारी समिति रीठी में समिति प्रबंधक के पदस्थ रहते सहायक प्रबंधक अनिल राय ही सर्वेसर्वा बना था। इतना ही नहीं एक सितम्बर को एसडीएम के निर्देश पर 33 बोरी चना की हेराफेरी पर रीठी थाने में अनिल राय के विरुद्ध धारा 420, 34 आईपीसी के तहत अपराध पंजीबद्ध होने के बाद वह नौ दिन से फरार है लेकिन विभागीय अधिकारी इतने दिनों से आंख-कान बंद किए हैं।
फरवरी से नहीं मिला अनाज
शासकीय आदिवासी बालक छात्रावास के अधीक्षक कुंजबिहारी परौहा ने बताया कि सहकारी समिति रीठी से छात्रावास के लिए आवंटित खाद्यान्न फरवरी  एवं जून से अगस्त माह का नहीं दिया गया है। खाद्यान्न नहीं मिलने से बाजार से महंगा अनाज खरीद कर छात्रों को खाना खिला रहे हैं। सहकारी समिति के सहायक प्रबंधक द्वारा हर बार खाद्याान्न के लिए टरका दिया जाता है। उल्लेखनीय है कि ग्रामीणों की शिकायत पर एसडीएम कटनी के निर्देश पर नायब तहसीलदार एवं सहायक आपूर्ति अधिकारी ने 30 अगस्त को 33 बोरी चना जब्त किया था। यह चना सहकारी समिति रीठी से वाहन क्रमांक एमपी 21 जी-2448 में लोड कर बाजार में बेचने के लिए ले जाया जा रहा था। एसडीएम के निर्देश पर जांच के बाद खाद्य निरीक्षक ने सहायक समिति प्रबंधक अनिल राय के विरुद्ध रीठी थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। जिस पर रीठी थाना में धारा 420 के तहत अनिल राय के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध किया गया था।
खाद के लिए भटकाव
सहायक समिति प्रबंधक के आलमारियों की चाबी सहित फरार होने से खरीफ सीजन में किसान खाद के लिए भटक रहे हैं। इन दिनों झमाझम बारिश के कारण धान एवं अन्य फसलों पर यूरिया का छिडक़ाव किया जाता है। रीठी सोसायटी से जुड़े लगभग 20 से अधिक गांवों के किसानों को यूरिया खाद नहीं मिल रही है। देवरीकला के खिल्लू चक्रवर्ती, कल्लू कुम्हार, कछारखेड़ा के कुंजबिहारी परौंहा, पटोंहा के सतीश राय के अनुसार पिछले दस दिनों से रीठी सोसायटी
में कोई काम नहीं हो रहा है। फसलों में यूरिया का छिडक़ाव किया जाना है पर यूरिया नहीं मिल रही है। यहां भले ही समिति प्रबंधक के पद पर डी.पी.पटेल को पदस्थ किया है पर वह भी सोसायटी में नहीं बैठ रहे हैं और न ही फोन रिसीव कर रहे हैं।
इनका कहना है
रीठी सोसायटी का मामला संज्ञान में है, खाद्यान्न वितरण की व्यवस्था शुरू करा दी गई है। आज ही सहकारिता निरीक्षक को रीठी सोसायटी भेजा है। पंचनामा
बनाकर समस्त प्रभार समिति प्रबंधक को सौंपने के निर्देश दिए हैं। खाद, यूरिया का वितरण भी शुरू करा दिया जाएगा।
- डॉ.अरुण मसराम, सहायक आयुक्त आयुक्त सहकारिता
 

कमेंट करें
YpkEu