comScore

हॉकी वर्ल्डकप : रोमांचक मैच में भारत ने बेल्जियम को ड्रॉ पर रोका

December 02nd, 2018 21:26 IST
हॉकी वर्ल्डकप : रोमांचक मैच में भारत ने बेल्जियम को ड्रॉ पर रोका

हाईलाइट

  • भारत ने ग्रुप C के एक रोमांचक मैच में बेल्जियम को ड्रॉ पर रोक दिया।
  • इस ड्रॉ के साथ भारत अपने ग्रुप में टॉप पर बना हुआ है।
  • भारत के लिए हरमनप्रीत सिंह (39') और सिमरनजीत सिंह (47') ने गोल दागे।

डिजिटल डेस्क, भुवनेश्वर। भुवनेश्वर में खेले जा रहे 14वें वर्ल्डकप हॉकी टूर्नामेंट के अपने दूसरे ग्रुप मैच में भारत ने बेल्जियम को ड्रॉ पर रोक दिया। रविवार को खेले गए ग्रुप C के एक रोमांचक मैच में पांचवें रैंक पर काबिज भारत ने तीसरे रैंक पर काबिज बेल्जियम को 2-2 से ड्रॉ पर रोक दिया। इस ड्रॉ के साथ भारत अपने ग्रुप में टॉप पर बना हुआ है। वहीं बेल्जियम की टीम दूसरे स्थान पर है। भारत के लिए हरमनप्रीत सिंह (39') और सिमरनजीत सिंह (47') ने गोल दागे। वहीं बेल्जियम के लिए हेन्ड्रिक्स (8') और सिमन गोनार्ड (56') ने गोल दागे।

कप्तान मनप्रीत सिंह के नेतृत्व में भारतीय टीम ने पहले हाफ में संभलकर शुरुआत की। मैच के दस मिनट के अंदर ही बेल्जियम ने दो पेनल्टी कॉर्नर हासिल किए। मैच के दूसरे मिनट में मिले पहले कॉर्नर में बेल्जियम की टीम कोई गोल नहीं कर सकी। इसके बाद 8वें मिनट पर मिले पेनल्टी कॉर्नर पर बेल्जियम के स्टार प्लेयर हेन्ड्रिक्स ने गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। भारत के पास भी मैच के 15वें मिनट में बराबरी का एक आसान मौका था, जिसे मनदीप सिंह ने गंवा दिया। पहले हाफ में बेल्जियम की टीम ने अपने शानदार काउंटर अटैक से कई मौके बनाए। हालांकि भारतीय डिफेंस ने अपनी सूझबूझ से सभी मौकों को विफल कर दिया। पहले हाफ में बेल्जियम ने भारत के गोल पोस्ट पर 9 हमले किेए, वहीं भारत को सिर्फ एक बार यह मौका मिला। इस तरह हाफ टाइम तक बेल्जियम ने भारत पर 1-0 की लीड बना ली।

दूसरे हाफ में भारतीय टीम का काउंटर अटैक
दूसरा हाफ शुरू होते ही भारतीय टीम ने विपक्षी खेमे पर काउंटर अटैक करना शुरू कर दिया। भारतीय टीम के दिलप्रीत सिंह मैच के 32वें मिनट में बेल्जियम के डिफेंडर्स को छकाते हुए गोल की तरफ बढ़े, लेकिन विपक्षी टीम के गोलकीपर ने शॉट को रोक लिया। मैच के 35वें मिनट में भारत को पेनल्टी कॉर्नर मिले, जिसे टीम भुना नहीं सकी। दूसरे हाफ के 38वें मिनट में भारत को लगातार दो पेनल्टी कॉर्नर मिले। पहले कॉर्नर में टीम इसे भुना नहीं पाई, वहीं दूसरे पेनल्टी कॉर्नर पर बेल्जियम द्वारा फाउल किए जाने पर भारत को पेनल्टी स्ट्रोक मिला। हरमनप्रीत सिंह ने पेनल्टी स्ट्रोक पर गोल कर भारत को मैच में वापस ला दिया। दूसरे हाफ में भारतीय टीम बेल्जियम पर डॉमिनेट कर रही थी।

दूसरे हाफ के अंतिम क्वार्टर की शुरुआत में भारत के सिमरनजीत सिंह ने दूसरा गोल कर टीम को 2-1 की बढ़त दिला दी। भारतीय टीम के खेल को देखकर ऐसा लग रहा था कि टीम यह मैच जीत जाएगी। तभी बेल्जियम के सिमन गोनार्ड ने अपने सूझबूझ से एक बेहतरीन गोल कर बेल्जियम को 2-2 से बराबरी पर ला दिया। मैच के अंतिम क्षणों में दोनों टीमों ने एक-दूसरे के गोल पोस्ट पर जमकर हमला बोला, लेकिन कोई भी टीम कामयाब नहीं हो सकी। इस तरह यह मैच 2-2 की बराबरी पर समाप्त हुआ। इस ड्रॉ के साथ भारत और बेल्जियम के अब दो मैचों में 4 पॉइंट हो गए हैं। वहीं गोल अंतर के आधार पर भारत ग्रुप C में टॉप पर है, जबकि बेल्जियम दूसरे स्थान पर काबिज है। भारतीय टीम अब 8 दिसंबर को कनाडा से भिड़ेगी। वहीं बेल्जियम की टीम भी उसी दिन साउथ अफ्रीका का सामना करेगी।

बता दें कि 1971 में हॉकी वर्ल्डकप की शुरुआत हुई थी। आठ बार की ओलंपिक चैंपियन भारत ने अपना एकमात्र वर्ल्डकप 1975 में जीता था। 1971 के ओपनिंग संस्करण में भारतीय टीम ने तीसरा स्थान हासिल किया था। 1973 में दूसरा स्थान और 1975 में वर्ल्डकप अपने नाम किया था। इस जीत के बाद भारतीय टीम अभी तक सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंच सकी है। 2014 में खेले गए पिछले संस्करण में भारतीय टीम नौवें स्थान पर रही थी। पाकिस्तान वर्ल्डकप की सबसे सफल टीम है और उसने सबसे ज्यादा चार बार खिताब पर कब्जा किया है। ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड्स ने तीन-तीन और जर्मनी ने दो बार विश्व कप पर कब्जा किया है। 


 

Loading...
कमेंट करें
SrT8a
Loading...
loading...