comScore

कर्जमाफी पर सिंधिया का अपनी ही सरकार पर हमला, '2 लाख तक के कर्ज माफ करे कमलनाथ सरकार'


हाईलाइट

  • कर्जमाफी पर ज्योतिरादित्य सिंधिया उठाए सवाल
  • सिंधिया ने कहा- कर्ज माफी का वादा पूरा नहीं किया
  • कांग्रेस को आत्म अवलोकन की जरूरत

डिजिटल डेस्क,भोपाल। कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है। सिंधिया ने कमलनाथ सरकार पर किसानों की कर्ज माफी को लेकर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि किसानो का कृषि ऋण माफी पूर्ण रूप से नहीं हुई है। सरकार ने केवल 50 हजार रुपए माफ किए है, जबकि दो लाख रुपए ऋण माफ करने का वादा किया था। 

दरअसल, सिंधिया गुरुवार को भिंड में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसानों के सिर्फ 50 हजार रुपए तक के कर्ज माफ हुए हैं। हमने सरकार बनने से पहले वचन पत्र में दो लाख रुपए तक का कर्ज माफ करने की बात कही थी। सिंधिया ने कहा, किसानों के दो लाख रुपए तक के कर्ज माफ होने चाहिए। 

सरकार की जिम्मेदारी

उन्होंने कहा कि सरकार की जिम्मेदारी है कि संकट के समय सभी जनता के साथ खड़ी रहे। कांग्रेस सरकार की पहली जिम्मेदारी किसानों के प्रति है। मैंने सीएम कमलनाथ ने कहा है कि बाढ़ पीड़ित किसानों को 8 से 30 हजार रुपए प्रति बीघा के हिसाब से मुआवजा मिलना चाहिए। 

पार्टी को दी थी नसीहत

इससे पहले भी सिंधिया ने अपनी पार्टी को आत्मचिंतन की नसीहत दी थी। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस को आत्मचिंतन की जरूरत है। पार्टी में सुधार करने का समय आ गया है। वहीं मप्र बाढ़ के नुकसान पर कमलनाथ सरकार द्वारा करवाए गए सर्वे पर भी ज्योतिरादित्य ने सवाल उठाए थे और दोबारा करने की मांग की थी।

लक्ष्मण सिंह ने भी उठाए सवाल

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने भी कमलनाथ सरकार पर कर्जमाफी को लेकर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा था कि सरकार ने किसानों से किया कर्जमाफी का वादा पूरा नहीं किया है। इसके लिए राहुल गांधी को किसानों से माफी मांगनी चाहिए और बताना चाहिए कि कर्जमाफी में समय लगेगा। 


 

कमेंट करें
fntUk