comScore

 मम्मी मुझे गांव के ही कुछ युवकों ने यहां पर बेच दिया...-आरोपियों को बचा रही पुलिस

 मम्मी मुझे गांव के ही कुछ युवकों ने यहां पर बेच दिया...-आरोपियों को बचा रही पुलिस

 डिजिटल डेस्क कटनी । बड़वारा थाना क्षेत्र के एक गांव में अपह्त सत्रह वर्षीय नाबालिग का पता लगाने के लिए मां दर-दर  की ठोकरें खाने पर छह माह से मजबूर है। पुलिस का रवैया इस मामले में इस तरह से रहा कि संदिग्धों को छूट दिए जाने से नाबालिग तस्करी का शिकार हो गई और पुलिस आज-कल कहकर टालमटोल कर रही है। नाबालिग की मां का कहना है कि उसकी बेटी को दिल्ली में ले जाकर क्षेत्र के ही कुछ लोगों ने बेच दिया है। इसकी जानकारी उसे तब लगी जब अपहत बेटी ने फोन कर पूरी कहानी बताई। जिस मोबाइल नंबर से बेटी ने फोन किया था। उस नंबर को भी पुलिस को दिया जा चुका है। इसके बावजूद पुलिस हीला-हवाली बरत रही है। महिला का कहना है कि जिस तरह से पुलिस स्थानीय स्तर पर संदेहियों को बचाने का काम कर रही है। उससे तो अब उनकी बेटी को जान का ही खतरा है।
संदेहियों को छोड़ा
महिला ने कहा कि 20 मार्च को क्षेत्र के ही कुछ युवक बहला-फुसलाकर उसे अपने साथ ले गए। उन युवकों का नाम भी उसने पुलिस को बताया। जिस पर पुलिस पूछताछ करने की बजाए उन पर मेहरबान रही। जिसका परिणाम यह हुआ कि अब उनकी बेटी इतनी दूर जा चुकी है कि उसे लाना उसके बस का नहीं है। पीडि़ता ने बताया कि पति के स्वर्गवास होने के बाद वह किसी तरह से मेहनत मजदूरी कर अपनी बच्चियों को पाल रही थी। उस पर भी अपहतकर्ताओं ने पानी फेर दिया है।
इनका कहना है
अपह्त नाबालिग का पतासाजी लगातार किया जा रहा है। जानकारी मिलने पर पुलिस अन्य प्रदेश में भी दबिश दी, लेकिन सफलता नहीं मिली। कोशिश लगातार की जा रही है।
- हरवचन सिंह, थाना प्रभारी बड़वारा
 

कमेंट करें
Dw4dV