comScore

पशु बाजार की आड़ में गौ-तस्करी को मिल रहा संरक्षण

December 09th, 2017 21:03 IST
पशु बाजार की आड़ में गौ-तस्करी को मिल रहा संरक्षण

डिजिटल डेस्क कटनी। मवेशियों खासकर गौवंश की बढ़ती तस्करी को रोकने के लिए जिला पुलिस द्वारा विशेष प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। गौरतलब है कि पशुओं की तस्करी करने वाले गिरोह द्वारा पशुओं को बंगाल एवं उड़ीसा ले जाये जाने के दौरान कटनी जिले के कई थानों की सीमा से गुजरने वाले मार्ग का इस्तेमाल किया जा रहा है। ऐसे में जिले की सीमा से गुजरने के दौरान इन मवेशी तस्करों पर कार्रवाई करने के लिए एसपी द्वारा जिले के सभी थानों व चौकी प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं तथा मवेशी तस्करों पर कार्रवाई न होने की दशा में गंभीर परिणाम भुगतने चेतावनी भी दी गई है। जिले के बहोरीबंद, ढीमरखेड़ा सहित कुछ अन्य क्षेत्रों में लगने वाले पशु बाजार की आड़ में गौवंश तस्करी को बढ़ावा देने की जानकारी भी सूत्रों द्वारा दी जा रही है।
गनियारी पशु बाजार का ठेका निरस्त करने एसपी ने लिखा कलेक्टर को पत्र
जिले की उमरियापान थाना सीमांतर्गत ग्राम गनियारी में लगने वाले पशु बाजार में घोर अनियमितता सामने आने तथा गौ तस्करों को संरक्षण दिए जाने की सूचना पर एसपी अतुल सिंह ने कलेक्टर को पत्र लिखकर पशु बाजार का ठेका निरस्त करने कहा है। एसपी द्वारा भेजे गए पत्र में बताया गया कि ग्राम गनियारी का पशु बाजार जो हर सप्ताह सोमवार को लगता है, उसमें गोपनीय पतासाजी दौरान यह तथ्य सामने आए हैं कि पशु बाजार में रजिस्टर का संधारण नहीं किया गया जा रहा है, पशु के्रता- विके्रता की जानकारी संधारित नहीं हो रही है। पशु व्यापार के नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है। पशु विके्रताओं एवं के्रताओं के पास ऋण पुस्तिकाएं भी नहीं रहती हैं। साथ ही पशु बाजार में मध्यप्रदेश गौवंश वध प्रतिषेध अधिनियम 2012 का पालन भी नहीं किया जा रहा है जिससे क्षेत्र में आक्रोश पनप रहा है। ग्राम गनियारी में पशु बाजार के ठेकेदार द्वारा अवैध रूप से गौवंश परिवहन करने वाले व्यापारियों को संरक्षण भी दिया जा रहा है। ऐसी स्थिति में उक्त ठेकेदार की निविदा निरस्त किये जाने के लिए वैधानिक कार्रवाई करने एसपी द्वारा कलेक्टर को कहा गया है।
इधर यूपी जा रही 38 नग भैंस कराई गईं मुक्त
वहीं दूसरी ओर एसपी के निर्देश पर रीठी पुलिस द्वारा जबलपुर से उत्तरप्रदेश ले जाई जा रहीं 38 नग भैंस को मुक्त करा ट्रक मालिक सहित 5 के विरूद्ध पशु कू्ररता अधिनियम तथा मोटर व्हीकल एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया है। रीठी टीआई रमन सिंह मरकाम ने बताया कि मुखबिर से मिली सूचना पर शुक्रवार की सुबह 10 बजे कटनी-दमोह मार्ग पर देवरी फाटक समीप एक ट्रक क्रमांक यूपी 21 एएन 7635 को रोककर जब वाहन की तलाशी ली गई तो वाहन में 38 नग भैंस क्रूरतापूर्वक परिवहन करते पाई गईं। जिस पर आरोपी मौसीन मुसलमान, मो. कासिम, अलाउद्दीन कुरैशी, जमीन मुसलमान तथा वाहन मालिक गुलाम इमरानी के विरूद्ध 11(1)(घ) पशु कू्ररता अधिनियम तथा 66/192 मोटर व्हीकल एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। टीआई ने बताया कि ये भैंस जबलपुर से मुराबाद उत्तर प्रदेश ले जाई जा रहीं थीं। कार्रवाई में टीआई सहित एसआई हुकुम सिंह, जयचंद उईके, एएसआई एनके पटैल, आरक्षक कबीरदास, संदेश परतेती, सुरेंद्र सिंह, पुष्पराज सिंह, लखन पटेल की भूमिका रही।

कमेंट करें
Xlhjg