comScore

शनिदेव हुए धनु राशि में वक्री, क्या होगा आप की राशि पर असर ?

शनिदेव हुए धनु राशि में वक्री, क्या होगा आप की राशि पर असर ?

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। शनि देव न्याय प्रिय और कर्मफल दाता हैं। वैदिक ज्योतिष के अनुसार शनि ग्रह कर्म और सेवा का कारक होता है इसलिए इसका सीधा संबंध आपकी नौकरी और व्यवसाय से होता है। यही कारण है कि शनि की चाल में होने वाले परिवर्तन का प्रभाव नौकरी और व्यापार में अधिक देखने को मिलता है। शनिदेव 30 अप्रैल  मंगलवार दोपहर 4 बजे से धनु राशि में वक्री हो गए हैं, वे 19 सितंबर 2019 ब्रहस्पतिवार को प्रातः 02 बजकर 03 मिनिट पर पुनः इसी राशि में ही मार्गी होंगे। इस बार पिछली बार की ही तरह शनि का वक्री काल कुल 142 दिनों का ही होगा।

किसी भी व्यक्ति के लिए वक्री शनि का फल तब ही खराब होता है, जब दशा और कुंडली में शनि का प्रभाव खराब हो, अन्यथा शनि के वक्री होने का कोई बुरा प्रभाव नहीं होता है। आईएए जानते हैं शनि के धनु राशि में वक्री होने का सभी राशियों पर कैसा प्रभाव पड़ने वाला है।

कमेंट करें
xvBH8