comScore

शेयर बाजारों में गिरावट, सेंसेक्स 330 अंक फिसला

November 09th, 2019 10:42 IST
शेयर बाजारों में गिरावट, सेंसेक्स 330 अंक फिसला

हाईलाइट

  • शेयर बाजारों में गिरावट, सेंसेक्स 330 अंक फिसला (राउंडअप)

मुंबई, 8 नवंबर (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजारों में सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को गिरावट दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांकों सेंसेक्स में 330 अंकों और निफ्टी में 103.90 अंकों की गिरावट दर्ज की गई। समझा जाता है कि यह गिरावट रेटिंग एजेंसी मूडीज द्वारा देश का आर्थिक परिदृश्य स्थिर से घटाकर नकारात्मक किए जाने के कारण हुई है।

बंबई स्टाक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार सुबह 40630.56 पर खुला और 330 अंकों यानी 0.81 फीसदी की गिरावट के साथ 40323.61 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 40749.33 के ऊपरी और 40263.94 के निचले स्तर को छुआ।

नेशनल स्टाक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित सूचकांक निफ्टी 11987.15 पर खुला और 103.90 अंकों यानी 0.86 फीसदी की गिरावट के साथ 11908.15 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 12034.15 के ऊपरी और 11888.75 के निचले स्तर का छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मालकैप सूचकांकों में भी गिरावट रही। मिडकैप सूचकांक 117.08 अंकों यानी 0.79 फीसदी की गिरावट के साथ 14731.11 पर और स्मालकैप सूचकांक 71.28 अंकों यानी 0.53 फीसदी की गिरावट के साथ 13474.75 पर बंद हुआ।

बीएसई में तेजी दर्ज करने वाले शेयरों में रेमंड (19.99 फीसदी), एनसीसी (5.22), बांबे डाइंग (6.56), अवंती (5.77) और केईआई (5.43 फीसदी) शामिल रहे।

गिरावट वाले शेयरों में भारतफोर्ज (8.88 फीसदी), पीजीएचएल (6.50), डीसीएमश्रीराम (5.47), मग्मा (5.38) और हिंदपेट्रो (5.22 फीसदी) शामिल रहे।

महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर में 0.07 फीसदी की गिरावट रही। कंपनी ने दूसरी तिमाही में कर बाद समेकित लाभ में 24 फीसदी की गिरावट दर्ज की है। आयशर मोटर्स के शेयर में 1.26 फीसदी की वृद्धि रही। कंपनी ने दूसरी तिमाही में सालाना आधार पर 1.19 फीसदी शुद्ध लाभ दर्ज की है। इसके अलावा गेल इंडिया, पावर ग्रिड कारपोरेशन आफ इंडिया, बीपीसीएल, ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के रिजल्ट घोषित हुए।

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 1023 शेयरों में तेजी और 1502 शेयरों में गिरावट रही, वहीं 172 शेयरों के मूल्य में कोई बदलाव नहीं हुआ।

उल्लेखनीय है कि वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भारत के आर्थिक परिदृश्य को स्थिर श्रेणी से घटाकर नकारात्क कर दिया। जिसका असर शेयर बाजार पर पड़ा और शेयर बाजारों में जोरदार गिरावट दर्ज की गई।

कमेंट करें
EK7NY