comScore

पहले दो दोस्तों ने लूटी अस्मत फिर कर दिया तीसरे  के हवाले- तीन माह से पुणे में बंधक थी नाबालिग

पहले दो दोस्तों ने लूटी अस्मत फिर कर दिया तीसरे  के हवाले- तीन माह से पुणे में बंधक थी नाबालिग

डिजिटल डेस्क,कटनी। दोस्तों की मीठी-मीठी बात में आकर एक नाबालिग ने पहले तो अपनी इज्जत गंवाई, फिर एक अन्य व्यक्ति की दरंदिगी का भी शिकार हुई।  तीन माह पूर्व रहस्यमयी तरीके से घर से लापता हुई नाबालिग लड़की को पुलिस ने पुणे से दस्तयाब किया । नाबालिग ने अपनी व्यथा पुलिस को बताई। नाबालिग ने किसी तरह एक व्यक्ति का सहयोग लेकर घर पर फोन पर सूचना दी थी जिसकी जानकारी लगने के बाद पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर उसे दस्तयाब किया है। किशोरी को अपहृत करने व उसके साथ दुराचार करने वाले आरोपियों के विरुद्ध अपराध कायम किया गया है।

नाबालिग ने फोन करके दी जानकारी

पुलिस सूत्रों से हासिल जानकारी मुताबिक कैमोर थाना क्षेत्र निवासी एक नाबालिग लड़की (17), तीन माह पूर्व अचानक लापता हो गई थी। परिजनों ने अपने स्तर से उसकी पतासाजी की लेकिन उसका कहीं सुराग नहीं लगा था। प्रयासों के बाद भी जब नाबालिग का पता नहीं चला तो परिजनों ने कैमोर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस नाबालिग लड़की की खोजबीन कर रही थी इसी बीच उसका फोन आया और पुलिस ने उसे दस्तयाब किया।

बंधक बनाकर लूटी अस्मत

आरोपियों द्वारा नाबालिग किशोरी को राजू चौहान के सुपुर्द कर दिया और वे वहां से वापस आ गए। इसके बाद राजू चौहान ने नाबालिग के साथ दुराचार किया और उसे अपने पास बंधक बनाकर रखा। तीन माह गुजरने के बाद मौका पाकर नाबालिग ने एक व्यक्ति की मदद से अपने घर फोन लगाया और अपने साथ हो रही ज्यादती की जानकारी दी। इसकी सूचना परिजनों ने थाने में दी जिसके बाद कैमोर थाना प्रभारी ने पुलिस कर्मियों को पूना भेजा जहां भनक लगते ही आरोपी राजू भाग निकला जबकि पुलिस ने पीड़िता को दस्तयाब कर लिया गया। पीड़िता ने पुलिस को दिए गए बयान में बताया है कि आरोपी राजू चौहान ने बंधक बनाकर उसका शारीरिक शोषण किया है।

झांसा देकर किया  था अपहृत

इस संबंध में थाने से जो जानकारी मिली है उसके अनुसार बड्डे बर्मन व गुल्ली आदिवासी नामक दो युवकों ने किशोरी को झांसा दिया और घूमने के बहाने उसे ले गए। आरोपियों ने नाबालिग को टे्रन में बिठाया और उसे लेकर पूना पहुंचे जहां वे अपने दोस्त राजू राणा के पास पहुंचे। गौरतलब है कि राजू राणा कैमोर थाना क्षेत्र के ग्राम धवईया का निवासी है जो पूना में रहकर किसी प्राईवेट संस्था में काम करता है।

इनका कहना है

नाबालिग पिछले तीन माह से लापता थी, जिसने फोन करके पूना में युवक के चंगुल में फंसे होने की जानकारी दी थी। पुलिस ने नाबालिग को दस्तयाब कर लिया है और राजू सहित नाबालिग को अपहृत करने वाले आरेापियों की भी तलाश की जा रही है। -सौरभ कुमार, प्रशिक्षु डीएसपी
 

कमेंट करें
EOZ29