comScore

वर्ल्ड योगा डे स्पेशल, सेहत के लिए चमत्कार से कम नहीं योगा 


डिजिटल डेस्क। योग एक प्राचीन शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास है जिसकी उत्पत्ति भारत में हुई थी। शब्द 'योग' संस्कृत से निकला है और इसका मतलब शरीर और चेतना का एकजुट होना है। 11 दिसंबर 2014 को, संयुक्त राष्ट्र ने संकल्प के 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में घोषित किया गया था। आज यह दुनिया भर में विभिन्न रूपों में प्रचलित है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य, योग के अभ्यास के कई लाभों के बारे में दुनिया भर में जागरूकता बढ़ाना है। इस बार 21 जून को पूरा विश्व पांचवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाएगा। 

इस वर्ष के विश्व योग दिवस का थीम 'योगा फॉर हार्ट' है। योग करने से शरीर के कई सारी बीमारियां यूं ही ठीक हो जाती हैं। अगर आप भी अपने जीवन में स्वस्थ्य और मस्त रहना चाहते हैं तो अपने जीवन में योग के लिए कुछ समय जरुर निकालें। अपने हर दिन की शुरुआत सूर्य नमस्कार से ही करें। इसे करने से आपके पूरे शरीर की कसरत एक बार में ही हो जाती है और इससे आप खुद को पूरे दिन तरोताजा महसूस करेंगे।

इस दिन पर अलग-अलग स्थानों पर बड़े पैमाने पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इस बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर झारखंड की राजधानी रांची में मुख्य कार्यक्रम होगा। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होंगे। कार्यक्रम में लगभग 30 हजार लोगों के शामिल होने की उम्मीद जताई गई है।

योग से होने वाले फायदे

  • नियमित तौर पर योग करने से शरीर के सभी अंग सुचारु रूप से कार्य करते हैं।
  • योग करने से मन की शांति प्राप्त होती है और शरीर तनाव मुक्त होता है। साथ ही योग करने से शरीर को ऊर्जा मिलती है।
  • योग के विभिन्न आसनों से शरीर के अलग-अलग हिस्सों को फायदा पहुंचता है। योग में शरीर के हर छोटे से छोटे अंग का व्यायाम होता है। और आपका शरीर लचीला बनता है।
  • छोटे बच्चे से लेकर बुजुर्ग व्यक्ति तक कोई भी योग के आसन कर सकता है। जब तक नियमित योग करेंगे, तब तक इसके लाभ मिलते रहेंगे। किसी कारणवश जब नहीं भी कर पाएं तब भी इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं होते हैं। आपको केवल इतना ध्यान रखना है कि आपको यदि शरीर के किसी हिस्से में पहले से कोई परेशानी है, तब ऐसा कोई आसन न करें, जो कि किसी भी प्रकार से परेशानी वाले हिस्से को प्रभावित करता हो।
  • योग के कई आसन ऐसे भी हैं, जो किसी परेशानी ग्रस्त हिस्से को ठीक कर देते हैं, लेकिन ऐसे आसन आप योग विशेषज्ञ की सलाह व देखरेख में ही करें।
कमेंट करें
IYDQH