झारखंड: भाजपा नेता कपिल मिश्रा को रांची में बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर रोका गया, बरही जाने का किया था ऐलान

February 16th, 2022

डिजिटल डेस्क, रांची। बुधवार को रांची पहुंचे दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता कपिल मिश्रा को झारखंड पुलिस ने यहां एयरपोर्ट पर रोक रखा है। कपिल मिश्रा हजारीबाग जिले के बरही में रूपेश पांडेय के परिजनों से मिलने जाने वाले थे। बता दें कि 17 वर्षीय किशोर रूपेश पांडेय की कुछ लोगों ने बीते 6 फरवरी को उस वक्त पीट-पीटकर हत्या कर दी थी, जब वह सरस्वती पूजा विसर्जन जुलूस में शामिल होने गया था।

रूपेश पांडेय हत्याकांड को लेकर बरही सहित झारखंड के कई इलाकों में लगातार हो रहे प्रदर्शन से तनाव की स्थिति है। सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म पर जस्टिस फॉर रूपेश पांडेय हैशटैग के इस्तेमाल के साथ अभियान चलाया जा रहा है। इस मामले को लेकर दिल्ली के भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने बुधवार को बरही जाकर रूपेश के परिजनों से मिलने की घोषणा की थी। उन्होंने इस बाबत ट्वीट किया था। बुधवार को वह जैसे ही रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर उतरे, उन्हें पुलिस ने बरही जाने से रोक दिया। मिश्रा फिलहाल एयरपोर्ट के लांज में हैं।

तनाव की स्थिति को देखते हुए जिला प्रशासन ने रूपेश पांडेय के परिजनों से बाहरी लोगों के मुलाकात पर रोक लगा रखी है। बरही, कोडरमा और रामगढ़ में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गयी है। हजारीबाग के पुलिस अधीक्षक मनोज रतन चौथे ने कहा है कि रूपेश हत्याकांड के चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। मामले की जांच एसआईटी कर रही है। इसे लेकर कुछ लोग सौहाद्र्र बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जायेगी।

इसके पहले बीते शुक्रवार को झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री औरभारतीय जनता पार्टी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी सहित कई नेताओं ने रूपेश के परिजनों से मुलाकात की थी। उन्होंने इसे मॉब लिंचिंग की वारदात बताते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। इधर बीते सोमवार को राज्य सरकार के तीन मंत्रियों मिथिलेश ठाकुर, सत्यानंद भोक्ता, बादल पत्रलेख के अलावा विधायक उमाशंकर अकेला, अंबा प्रसाद और सुदिव्य कुमार सोनू ने बरही पहुंचकर रूपेश के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें इंसाफ का भरोसा दिलाया था।

(आईएएनएस)