comScore

इंडियन हॉकी टीम ने हासिल की एशियन गेम्स की सबसे बड़ी जीत, हांगकांग को 26-0 से रौंदा

August 23rd, 2018 10:20 IST

हाईलाइट

  • भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने बुधवार को हांगकांग को 26-0 से रौंद दिया।
  • भारतीय टीम ने पूल-A में शीर्ष पर अपनी स्थिति और मजबूत कर ली।
  • भारतीय टीम की यह हॉकी इतिहास में भी सबसे बड़ी जीत है।

डिजिटल डेस्क, जकार्ता। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने बुधवार को 18वें एशियन गेम्स के चौथे दिन अपने दूसरे ग्रुप मुकाबले में हांगकांग को 26-0 से रौंद दिया। भारतीय हॉकी टीम की यह लगातार दूसरी जीत है। इससे पहले टीम ने मेजबान इंडोनेशिया को 17-0 से करारी शिकस्त दी थी। भारतीय टीम ने शानदार जीत हासिल करते हुए तीन अंक हासिल किए और कुल छह अंक के साथ पूल-A में शीर्ष पर अपनी स्थिति और मजबूत कर ली।

भारतीय पुरुष हॉकी टीम की यह जीत एशियन गेम्स में किसी भी देश के लिए सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले पाकिस्तान ने 1978 के एशियाई खेलों में बांग्लादेश को 17-0 से हराया था। भारतीय टीम ने सोमवार को इंडोनेशिया को हराकर इस रिकॉर्ड की बराबरी कर ली थी। वहीं 1974 एशियन गेम्स में भारतीय टीम ने ईरान को 12-0 के मार्जिन से हराया था। जबकि दिल्ली में खेले गए 1982 एशियन गेम्स में भी बांग्लादेश को भारत ने इतने ही अंतर से हराया था।



भारतीय टीम की यह अपने हॉकी इतिहास में भी सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के नेतृत्व में भारत ने अमेरिका को 1932 ओलंपिक गेम्स में 24-1 से हराया था। वहीं इंटरनेशनल हॉकी में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के नाम है। न्यूजीलैंड ने 1994 में समोआ को 36-1 से रौंद दिया था। भारतीय पुरुष हॉकी टीम का एशियन गेम्स में प्रदर्शन शानदार रहा है। भारतीय टीम ने 17 एशियाड में अब तक तीन गोल्ड, नौ सिल्वर और दो ब्रॉन्ज समेत कुल 14 पदक हासिल किए हैं। भारतीय टीम ने 2014 इंचियोन एशियन गेम्स में भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया था।

भारत ने पहले हाफ में 14, दूसरे हाफ में दागे 12 गोल
भारत के लिए सबसे पहला गोल स्टार फॉरवर्ड खिलाड़ी आकाशदीप सिंह ने किया। इस मैच में भारतीय टीम के सर्वाधिक 14 खिलाड़ियों ने गोल दागे। वहीं चार खिलाड़ियों ने गोल की हैट्रिक भी लगाई। स्टार फॉरवर्ड खिलाड़ी हरमनप्रीत (28वें, 52वें, 53वें, 55वें मिनट) ने सबसे ज्यादा चार गोल दागे। वहीं आकाशदीप सिंह (2वें, 32वें, 39वें मिनट), पेनाल्टी कॉर्नर विशेषज्ञ रुपिंदर पाल सिंह (3वें, 4वें, 59वें मिनट) और ललित (16वें, 19वें, 34वें मिनट) ने तीन-तीन गोल दागे।

इसके साथ ही एसवी सुनील (7वें, 45वें मिनट), मनप्रीत सिंह (2वें, 17वें मिनट) और मंदीप सिंह (20वें, 21वें मिनट) ने दो-दो गोल दागे। जबकि रोहानी (17वें मिनट), सुरेंदर (54वें मिनट), सिमरनजीत (53वें मिनट), चिंगलेनसना (51वें मिनट), दिलप्रीत (47वें मिनट), वरुण (29वें मिनट) और विवेक (14वें मिनट) ने एक-एक गोल किए। 

कमेंट करें
l0Ktp