• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • 3, including a woman, committed suicide by hanging themselves, know the news of the crime in Nagpur city

दैनिक भास्कर हिंदी: महिला सहित 3 ने फांसी लगाकर की खुदकुशी-जानिए नागपुर शहर की क्राइम की खबरें

April 7th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। महिला सहित तीन लोगों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। एक युवती की जहर गटकने से मौत हुई। हुड़केश्वर, कोतवाली, हिंगना और पारडी थाने में आकस्मिक मृत्यु के प्रकरण दर्ज किए गए। 

अलग-अलग स्थानों पर हुईं घटनाएं
साईं नगर निवासी राखी गुंजाल (36) एक-डेढ़ वर्ष से 15 वर्षीय पुत्र और 8 वर्षीय पुत्री के साथ मायके में रह रही थी। सोमवार को देर रात उसने सीलिंग फैन को चुन्नी बांधकर फांसी लगा ली। मौके से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। दसरा रोड, मांगपुरा निवासी निखिल उके (30) बेरोजगार हो गया था। उसे काम नहीं मिल रहा था। वह शराब पीने लगा था। सोमवार को उसने भी फांसी लगाकर आत्मघाती कदम उठा लिया। वर्धा रोड स्थित डोंगरगांव निवासी योगेश सोनवणे (30) को परिजनों प्रादेशिक मनोरुग्णालय ले गए थे, लेकिन वहां से योगेश भाग आया था। मंगलवार को उसने भी फांसी लगाकर मौत को गले लगा लिया, जबकि दुर्गा नगर निवासी उर्वशी मेश्राम (22) ने 2 अप्रैल को जहरीली दवा पी ली। उसे मेयो अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां मंगलवार को उसने दम तोड़ दिया।

सिर पर बोतल फोड़कर हत्या का प्रयास
सदर छावनी में रंजिश के चलते सिर पर बोतल फोड़कर व्यक्ति की हत्या का प्रयास किया गया। मामले में सोमवार को सदर थाने में प्रकरण दर्ज किया गया। सदर छावनी निवासी विनीत गणेर (38) और मंगेश रामूजी उईके (40) एक ही बस्ती में रहते हैं। किसी बात पर उनमें विवाद चल रहा था। घटना वाले दिन शाम 6.30 बजे उनमें किसी बात को लेकर एक शराब दुकान के सामने विवाद हुआ और तैश में आकर मंगेश ने विनीत के सिर में कांच की बोतल फोड़ दी। इस हमले में विनीत का  सिर फट गया। गंभीर रूप से घायल विनीत को मेयो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। विनीत के भाई मिलिंद की शिकायत पर मंगेश के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है।

झांसा देकर कमीशन एजेंट  से 1.80 लाख की ठगी
तीन ट्रक भेजने का झांसा देकर कमीशन एजेंट को चूना लगाने के मामले में  मंगलवार को पारडी थाने मेें धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज िकया गया। उमरेड रोड आदर्श नगर निवासी साजिद अली (45) ट्रांसपोर्ट कारोबार में कमीशन एजेंट है। सोनबाजी नगर में उसका ताजश्री कार्गो मूवर्स नामक कार्यालय है। 26 मार्च को दिन में 11.30 बजे साजिद को कार्यालय में फरीदाबाद से क्रिष्णा पैकर्स एंड मूवर्स से दर्शन कुमार नामक व्यक्ति का फोन आया। साजिद ने ट्रांसपोर्टेशन ट्रकों की जरूरत बताते हुए तीन ट्रकों की मांग दर्शन से की। साजिद ने अग्रिम तौर पर एनएफटी कर 1 लाख 80 हजार रुपए दर्शन के खाते में जमा किए, लेकिन अभी तक दर्शन ने साजिद को ट्रक नहीं भेजे है। दर्शन का फोन बंद है। धोखाधड़ी का एहसास होने पर साजिद प्रकरण दर्ज किया गया है।

सड़क में पड़ी मृत भैंस से बाइक टकराई
रामटेक से करीब 9 किमी दूर मनसर में रामधाम के पास सड़क पर मृत पड़ी भैंस से दोपहिया टकराने से चालक प्रतीक मेश्राम की मौत हो गई और उसकी दोस्त पूजा बारापात्रे गंभीर जख्मी हो गई। घटना 26 मार्च को हुई थी। पुलिस के अनुसार आर्या नगर, कोराडी रोड निवासी प्रतीक, पूजा के साथ दोपहिया वाहन (एम.एच.-49-आर.-3625 पर डबल सीट रामटेक से मनसर जा रहा था। रामधाम के पास प्रतीक की लापरवाही से दोपहिया वाहन सड़क पर मृत पड़ी भैंस से टकरा गया था। प्रतीक की अस्ताल में उपचार के दौरान मौत हो गई।  रामटेक पुलिस ने आरोपी चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

घातक शस्त्र के साथ आरोपी गिरफ्तार
यशोधरा नगर पुलिस ने आरोपी प्रकाश गुप्ता को घातक शस्त्र के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार हवलदार मनीष भोसले ने मंगलवार को दोपहर करीब 12.30 बजे मिली गुप्त सूचना पर पुलिस दस्ते ने आरोपी प्रकाश गुप्ता को घातक शस्त्र के साथ धरदबोचा। धारा  4, 25 व सहधारा 135 के तहत मामला दर्ज किया। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अशोक मेश्राम के नेतृत्व में उप-निरीक्षक जितेंद्र भार्गव, हवलदार मनीष भोसले, पुलिस नायब शोएब शेख, राजकुमार पाल,  प्रसन्नजीत जांभुलकर ने कार्रवाई की। 

पुलिस ने मुक्त कराईं 15 भैंसें
मंगलवार को शाम करीब 6.30 बजे नागपुर के कलमना क्षेत्र से आयशर ट्रक (एम.एच.-20-ई.जी.-9770) में खामगांव ले जा रहे 15 भैंसों को कोंढाली पुलिस ने मुक्त कराया। कोंढाली के बल्लू बिसेन की जानकारी पर कोंढाली-वर्धा टी-प्वाइंट पर पुलिस ने ट्रक रोका और चालक को हिरासत में लेकर मवेशियों को मुक्त कराया। समाचार लिखे जाने तक कार्रवाई जारी थी। 

स्कॉर्पियो जलकर खाक परिवार बाल-बाल बचा
नांदोरा तिराहे पर सोमवार को रात 12 बजे अमरावती से नागपुर जा रही स्कॉर्पियो में अचानक आग लग गई। हादसे में गाड़ी में सवार आत्रम परिवार बाल-बाल बच गया और बड़ा हादसा टल गया। कोंढाली पुलिस ने आग पर काबू पाने का प्रयास किया, लेकिन गाड़ी जलकर खाक हो गई। कोंढाली-अमरावती मार्ग पर कोंढाली से 2 किमी दूर नांदोरा फाटा, निर्मल सूतगिरणी के सामने यह घटना हुई। नागपुर आ रही स्कॉर्पियो (एम.एच.-14-ए.बी.-9991) के गाड़ी चालक-मालिक अमोल आत्रम (33), बेसा रोड, नागपुर निवासी को गाड़ी के बोनट से धुआं निकलता नजर आने पर उसने तत्काल गाड़ी रोककर पहले अपनी पत्नी बबीता (30), मां सुशीला (60) तथा पुत्र को गाड़ी के बाहर निकाला। पश्चात बोनट खोलते ही आग भड़क गई। सूचना मिलते ही कोंढाली पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। इस घटना से मार्ग पर दो घंटे यातायात ठप रहा।