- मणप्पुरम गोल्ड फायनेंस में डकैती के दो आरोपी गिरफ्तार, चार बदमाश सोना लेकर फरार: बिहार की गैंग ने की वारदात, गिरोह अब तक 300 किलो सोना लूट चुका

November 27th, 2022

डिजिटल डेस्क कटनी।  शनिवार को यहां मणप्पुरम गोल्ड फायनेंस ऑफिस से 16 किलो सोना व 3.50 लाख रुपए नकद की डकैती करने वाले बिहार की शातिर सोना लूट गैंग के सदस्य हैं। यह खुलासा वारदात के बाद भागे दो बदमाशों ने किया है जिन्हें पुलिस ने मंडला जिले के निवास से गिरफ्तार किया है। इस गिरोह का सरगना सुबोध सिंह वर्तमान में बिहार की बक्सर जेल में बंद है। यह गिरोह गोल्ड फायनेंस कंपनियों को ही निशाना बनाता है और अब तक देश के कई शहरों में वारदात कर 300 किलो सोना लूट चुका है।
 एसपी सुनील जैन ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि गिरोह के सभी छह सदस्य 7 नवंबर को कटनी आए थे। यहां वारदात के लिए मणप्पुरम गोल्ड फायनेंस ऑफिस की उन्होंने लगातार रैकी की, वारदात के बाद सुरक्षित भागने की सभी तैयारियां कर उन्होंने डकैती डाली। कटनी में ही उन्होंने एक पुरानी बाइक खरीदी और किराए पर मकान के साथ कुछ दिन होटल में भी ठहरे। वारदात के बाद पड़ोसी जिलों में हुए अलर्ट के बाद निवास पुलिस ने शनिवार देर शाम बिहार के रहने वाले दो आरोपियों शुभम तिवारी(24) पटना और अंकुश(25) को पकड़कर कटनी पुलिस के हवाले किया था। पुलिस ने इन आरोपियों की जानकारी पर डकैती में प्रयुक्त तीन बाइकें, एक कट्टा, एक कारतूस व 10 हजार रुपए बरामद किए हैं। वारदात के 24 घंटे से अधिक समय बीतने के बाद भी फायनेंस कंपनी लूटे गए सोने की वास्तविक जानकारी पुलिस को उपलब्ध नहीं करा सकी है। पुलिस को दिया चकमा-
वारदात के बाद शातिर बदमाशों ने पुलिस को चकमा देने दो टीमें बनाईं। घटना के बाद पुलिस जहां सीसीटीवी फुटेज व अन्य जानकारियां खंगाल रही थी उस समय वारदात कर दो सदस्य पीरबाबा बायपास की तरफ भागे और बाकी चार लूट का सोना व नकदी लेकर बस स्टैंड चाका बायपास होते हुए सतना की तरफ निकल गए। इन्होंने घटना में उपयोग की गई मोटर साइकिलें कुठला में छोड़ दी थीं।
इनकी तलाश जारी-
पकड़े गए आरोपियों ने फरार चार साथियों के नाम बताए हैं, ये अखिलेश उर्फ विकास(वैशाली), अर्जुन उर्फ पियूष(पटना), मिथलेश उर्फ धर्मेंद्र पाल तथा अमित सिंह उर्फ विक्कू निवासी बक्सर हैं। पुलिस इन आरोपियों को तलाश कर रही है।