comScore

डिंडोरी - कोविड-19 कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जन जागरूकता अभियान चलायें

July 24th, 2020 17:54 IST
डिंडोरी - कोविड-19 कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जन जागरूकता अभियान चलायें

डिजिटल डेस्क, डिंडोरी। डिंडोरी केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि कोविड-19 कोरोना संक्रमण काल में आवश्यक वस्तुओं की दुकान जरूर खुली रहेंगी। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। सार्वजनिक स्थानों पर या घर से बाहर निकलते समय मास्क अनिवार्य रूप से पहनना होगा। धार्मिक कार्यक्रम/समारोह के लिए शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा। जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को जानकारी दें और जन जागरूकता अभियान चलायें। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री कुलस्ते गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति की बैठक में उक्त निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति ज्योतिप्रकाश धुर्वे, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री नरेन्द्र राजपूत, जनपद पंचायत शहपुरा अध्यक्ष श्री थानी सिंह धुर्वे, जनपद पंचायत बजाग अध्यक्ष श्री रूद्रेश परस्ते, कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन, पुलिस अधीक्षक, मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, अपर कलेक्टर, एसडीएम डिंडौरी, सहायक कलेक्टर डिंडौरी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग, जिला समन्वयक सर्वशिक्षा अभियान, जिला आपूर्ति अधिकारी सहित जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सामाग्री उपलब्ध है:- केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने जिले में कोरोना संक्रमण काल में की गई तैयारियों की समीक्षा की। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जिले में 53 अतिरिक्त बिस्तर तैयार किये गए हैं। जिला चिकित्सालय में 314 ऑक्सीजन सिलेण्डर उपलब्ध हैं और 11 आईसीयू का बिस्तर तैयार हो रहा है। जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए संपूर्ण व्यवस्था की गई है और पर्याप्त सामाग्री उपलब्ध है। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने कहा कि जिले व प्रदेश के बाहर से आने वाले लोगों की जानकारी लें। नियमित रूप से उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराएं। कलेक्टर ने बताया कि डिंडौरी जिले में बाहर से आने वाले लोगों की जानकारी आंगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिका, एएनएम एवं ग्राम पंचायत के द्वारा लगातार ली जा रही है। जिले में बाहर से आने वाले लोगों का नियमित रूप से स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है। गांव-गांव में लगातार मुनादी भी कराया जा रहा है। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने इस दौरान नगर पंचायत शहपुरा एवं डिंडौरी द्वारा कोविड-19 कोरोना संक्रमण काल में किये जा रहे कार्यो की भी समीक्षा की। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने कहा कि जिले में मलेरिया की रोकथाम के लिए समुचित उपाय किये जाएं। छत्तीसगढ के सीमावर्ती क्षेत्रों में उपचार के समुचित प्रबंध हो। लोगांे को नदी/नालों या झिरियों का पानी न पीने की सलाह दें। उन्होंने कहा कि स्वास्थ विभाग का अमला उन क्षेत्रों को चिन्हित करें, जिन क्षेत्रो में पहले से ही मलेरिया के प्रकरण मिलते रहे हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जिले में मलेरिया पूरी तरह से नियंत्रण में है। अभी तक मलेरिया के 15 प्रकरण ही सामने आये हैं। शिक्षा समिति की बैठक नियमित रूप से की जाए:- केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने कहा कि जिले में शिक्षा के स्तर में सुधार करते हुए विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा दी जाए। स्कूलों में विद्यार्थियों के अनुपात में शिक्षकों को पदस्थ करें। जिससे विद्यार्थियों को नियमित रूप से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिल सके। उन्होंने इस संबंध में प्रत्येक जनपद में शिक्षा समिति की बैठक नियमित रूप से आयोजित की करने के निर्देश दिए। जिला पंचायत अध्यक्ष ने बताया कि प्राथमिक शाला नागदमन में 9 विद्यार्थी हैं और 6 शिक्षक पदस्थ हैं। उन्होंने शिक्षकों को अन्यत्र स्कूलो में पदस्थ करने को कहा। जनपद पंचायत शहपुरा अध्यक्ष ने कहा कि प्राथमिक एवं माध्यमिक शाला मालपुर में शिक्षक पदस्थ नहीं है। उन्होंने शिक्षक पदस्थ करने की मांग की। केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री ने शिक्षक पदस्थ करने के निर्देश दिए हैं, जिससे भविष्य में विद्यार्थियों का अध्यापन कार्य प्रभावित न हो। जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि जिले के अधिकांश विद्यालय एवं छात्रावासों में पहुंच मार्ग नहीं है, अतः ऐसे छात्रावासों/विद्यालयों में पहुंच मार्ग का निर्माण किया जाए। जिला स्तरीय जांच समिति का गठन किया जायेगा:- जिला पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि बस्ती विकास योजना के अंतर्गत स्वीकृत कार्यो को पूर्ण नहीं किया गया और अपूर्ण कार्यो की राशि जारी कर दी गई है। आरईएस विभाग द्वारा 34 तालाबों के निर्माण में जेसीबी %E

कमेंट करें
f0bBN