comScore

कमिश्नर ने संभाग के सभी जिलों में क्वारेंटाईन सेण्टरों की व्यवस्था दुरुस्त करने के दिए निर्देश!

कमिश्नर ने संभाग के सभी जिलों में क्वारेंटाईन सेण्टरों की व्यवस्था दुरुस्त करने के दिए निर्देश!

डिजिटल डेस्क | संभाग आयुक्त श्री जी आर चुरेंद्र ने संभाग के सातों कलेक्टरों को प्रवासी मजदूरों के घर वापसी की स्थिति में गांव-शहरों में पूर्व में तय किये गये क्वारेंटाईन सेन्टर्स में ठहराने हेतु आवश्यक व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। कमिश्नर श्री चुरेंद्र ने कहा कि विभिन्न राज्यों में बेहतर रोजगार-स्वरोजगार की दृष्टि से छत्तीसगढ़ राज्य से या बस्तर संभाग से बाहर परिवार सहित या व्यक्तिरूप से गये श्रमिक कोरोना संक्रमण की व्यापकता को देखते हुये अपने गृहग्राम या जिला वापस आ रहे हैं । अतः ऐसी स्थिति में पूर्व वर्ष की भांति नगरीय क्षेत्र और ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित क्वारेंटाईन सेन्टर्स में प्रवासी मजदूरों को ठहराने की व्यवस्था तत्काल करें।

श्री चुरेंद्र ने सेण्टरों की व्यवस्था के तहत प्रत्येक क्वारेंटाईन सेन्टर के लिए प्रभारी अधिकारी के रूप में प्रथम श्रेणी से लेकर तृतीय श्रेणी कार्यपालिक अधिकारी पदवर्ग के अधिकारी को आदेशित करने के निर्देश दिए है ।प्रत्येक क्वारेंटाईन सेन्टर के लिए गांव में पदस्थ कर्मचारियों में से एक दल गठित किया जावे, जिसमें हल्का पटवारी, ग्राम पंचायत सचिव, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, शिक्षक ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, वन रक्षक में से हों। क्वारेंटाईन सेंटर में एक समय में कम से कम दो कर्मचारी तैनात रहे इस दृष्टि से 18 घण्टे की डयूटी तीन पाली में ड्यूटी लगाने कहा है।

क्वारेंटाईन सेन्टर में सोने की व्यवस्था, प्रकाश व्यवस्था, पेजजल व्यवस्था, पंखे कीव्यवस्था, भोजन-जलपान की व्यवस्था आदि सुनिश्चित करने के साथ-साथ साफ-सफाई स्वच्छता पर विशेष रूप से ध्यान देने के निर्देश दिए है ।परिसर की साफ-सफाई श्रमदान आधारित व्यवस्था में सुनिश्चित करने कहा है। क्वारेंटाईन सेन्टर में दो दिनों के अंतराल में स्वास्थ्य कर्मी व आवश्यकता पड़ने पर चिकित्सक का कैम्प अनिवार्यतः लगाई जाए । स्वास्थ्य परीक्षण व उपचार की व्यवस्था के साथ ही सेंटर में सेनेटाईजर,डेटॉल व हाथ धोने के लिए साबुन की व्यवस्था अनिवार्यतः रखने के निर्देश दिए है।

कमेंट करें
OLNr4