नेटवर्क प्रदाता: एसटीएल ने 5जी के लिए किया 250 करोड़ रुपये का सौदा

July 20th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। डिजिटल नेटवर्क प्रदाता एसटीएल ने मंगलवार को कहा कि उसने भारत के प्रमुख दूरसंचार ऑपरेटर के साथ 250 करोड़ रुपये का एक मल्टी-ईयर सौदा हासिल किया है। देश इस महीने के अंत में 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी के लिए तैयार है। एसटीएल देश भर में नौ दूरसंचार सर्किलों में सेवा प्रदाता के नेटवर्क के निर्माण के लिए विशेष ऑप्टिकल फाइबर और परिनियोजन सेवाएं प्रदान करेगा।

उद्योग के सूत्रों के अनुसार, एसटीएल एयरटेल को और बड़ा पैमाना, कम देरी और बेहतर बैंडविड्थ के माध्यम से विश्व स्तरीय ग्राहक अनुभव प्रदान करने में मदद करेगा।

एसटीएल ग्लोबल सर्विसेस के सीईओ प्रवीण चेरियन ने कहा, एसटीएल और दूरसंचार सेवा प्रदाता ऑप्टिकल कनेक्टिविटी स्पेस में लंबे समय से भागीदार रहे हैं। इस परियोजना में, एसटीएल भारत के लिए एक सक्षम नेटवर्क विकसित करने और बनाने के लिए सेवा प्रदाता के साथ सहयोग करेगा। उन्होंने कहा, हम एक 5जी-रेडी और उच्च क्षमता वाला नेटवर्क प्रदान करेंगे, जिससे सेवा प्रदाता को पूर्व, दक्षिण और उत्तरी क्षेत्रों में बेहतर अनुभव के साथ नई सेवाओं की तेजी से डिलीवरी प्रदान करने में सक्षम होने की उम्मीद है।

घने फाइबरयुक्त नेटवर्क से 5जी, एफटीटीएच (फाइबर टू द होम), आईओटी, एंटरप्राइज नेटवर्क और उद्योग 4.0 जैसी कई अगली पीढ़ी की सेवाओं की नींव बनने की भी उम्मीद है। एसटीएल की भारत, इटली, यूके, यूएस, चीन और ब्राजील में मौजूदगी है। दूरसंचार विभाग ने 600, 700, 800, 900, 1800, 2100, 2300, 2500, 3300 मेगाहट्र्ज और 26 गीगाहट्र्ज बैंड में स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए आवेदन (एनआईए) आमंत्रित करने के लिए एक नोटिस जारी किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मई में कहा था कि 5जी तकनीक भारतीय अर्थव्यवस्था में 450 बिलियन डॉलर का योगदान देगी। पीएम मोदी ने भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (टीआरएआई) द्वारा एक कार्यक्रम के दौरान स्वदेशी 5जी टेस्ट बेड राष्ट्र को समर्पित किया था।

सोर्स: आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.