comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

अमिताभ चौधरी होंगे एक्सिस बैंक के नए MD और CEO, जनवरी 2019 से संभालेंगे पद

September 09th, 2018 00:36 IST
अमिताभ चौधरी होंगे एक्सिस बैंक के नए MD और CEO, जनवरी 2019 से संभालेंगे पद

हाईलाइट

  • अमिताभ चौधरी एक्सिस बैंक के नए मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर होंगे।
  • एक्सिस बैंक ने शनिवार को इसका ऐलान किया।
  • बैंक ने कहा कि चौधरी का कार्यकाल 1 जनवरी, 2019 से शुरू होगा।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अमिताभ चौधरी एक्सिस बैंक के नए मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर (CEO) होंगे। शनिवार को एक्सिस बैंक के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की मीटिंग के बाद यह फैसला लिया गया। बैंक ने कहा कि चौधरी का कार्यकाल 1 जनवरी, 2019 से शुरू होगा। वह अगले तीन साल की अवधि के लिए बैंक के MD और CEO के पद पर कार्यरत रहेंगे। चौधरी एक्सिस बैंक की पूर्व MD शिखा शर्मा की जगह लेंगे। शिखा शर्मा का कार्यकाल 31 दिसंबर, 2018 को समाप्त हो रहा है।

54 वर्षीय चौधरी वर्तमान में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के MD और CEO के रूप में कार्यरत हैं। वह जनवरी, 2010 से HDFC लाइफ से जुड़े हुए हैं। एक्सिस बैंक के प्रवक्ता ने बताया, 'बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने आज एक मीटिंग आयोजित की थी। मीटिंग में अमिताभ चौधरी के नाम पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने भी अपनी मंजूरी दे दी है। चौधरी को तीन साल की अवधि के लिए बैंक अपना नया MD और CEO नियुक्त करती है। वह 1 जनवरी, 2019 से 31 दिसंबर, 2021 तक इस पद पर काबिज रहेंगे।'

अमिताभ चौधरी ने अपनी नियुक्ती पर खुश होते हुए कहा, 'मुझे भारत के तीसरे सबसे बड़े बैंक का प्रभार देने के लिए और इस सम्मान के लिए, मैं RBI और एक्सिस बैंक बोर्ड का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं।' इसके पहले HDFC लाइफ ने भी एक बयान जारी किया था, जिसमें यह बताया गया था कि अमिताभ चौधरी ने अपना इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे पर फैसला करने और नए एमडी और सीईओ की नियुक्ति पर विचार करने के लिए 12 सितंबर को एक मीटिंग रखी गई है।

बता दें कि जुलाई, 2017 में एक्सिस बैंक बोर्ड ने शिखा शर्मा की फिर से नियुक्ति को मंजूरी दे दी थी। हालांकि इस साल अप्रैल में, शिखा शर्मा के अनुरोध के बाद एक्सिस बैंक बोर्ड ने उनके कार्यकाल को घटा दिया था। इसके बाद से ही चौधरी की नियुक्ति की अटकलें तेज हो गई थी। इस दौरान उन्होंने HDFC लाइफ में अपनी शेयर भी बेच दिये थे। एक रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने अप्रैल और अगस्त के बीच 55.77 करोड़ रुपये के शेयर बेचे थे।

कमेंट करें
eaIEz
कमेंट पढ़े
Mr. Sandeep September 17th, 2018 07:48 IST

I don't like how he is sitting on table and his pose of body it is not posittive both of way too. I personally dislike.

Mr. Sandeep September 17th, 2018 07:41 IST

I dont like how he is sitting on table andi his pose of body it is not posittive.both of way to sitt. .

NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।