दैनिक भास्कर हिंदी: भारत को अगले 20 वर्षो में 2380 नए विमानों की जरूरत : बोइंग

November 7th, 2019

हाईलाइट

  • ग्लोबल एयरोस्पेस प्रमुख बोइंग ने अनुमान लगाया
  • 2,380 नए विमानों की कीमत 330 अरब डॉलर होगी
  • विमानन सेवाओं पर 440 अरब डॉलर खर्च करने की उम्मीद

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ग्लोबल एयरोस्पेस प्रमुख बोइंग ने अनुमान लगाया है कि भारत को अगले 20 वर्षो में 2,380 नए विमानों की जरूरत होगी, जिनकी कीमत 330 अरब डॉलर होगी। बोइंग के वार्षिक इंडिया कमर्शियल मार्केट आउटलुक (सीएमओ) 2019 के अनुसार, घरेलू यात्री यातायात वृद्धि, नए दीर्घकालीन अवसरों और बुनियादी ढांचे के विकास जैसे कारकों की वजह से बोइंग द्वारा की गई यह भविष्यवाणी संभव होगी।

2019 इंडिया सीएमओ के बयान में बताया गया, विस्तार बेड़े को संचालित करने और बनाए रखने के लिए ऑपरेटरों को रखरखाव और इंजीनियरिंग के साथ-साथ विमानन सेवाओं पर 440 अरब डॉलर खर्च करने की उम्मीद है।

बोइंग की ओर से बताया गया है कि घरेलू नेटवर्क और नए हवाई अड्डों की सेवा आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए नए विमानों की जरूरत होगी, जिसमें 87 फीसदी सभी नए हवाई जहाज होंगे।

सीएमओ के अनुसार, नए हवाई जहाजों में से कई बहुत पुराने हो चुके विमानों की जगह लेंगे और ऑपरेटरों को अपने नेटवर्क को बढ़ाने में मदद करेंगे। क्योंकि 2038 तक भारत के हवाई जहाज के बेड़े का आकार लगभग 2,500 विमानों से चार गुना बढ़ने का अनुमान है।