पेट्रोलियम उत्पाद: इस्लामाबाद में पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन

February 24th, 2022

हाईलाइट

  • दामों में बढ़ोतरी और नेताओं की बेशर्मी को लेकर धरना प्रदर्शन किया जा रहा है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली/इस्लामाबाद। पेट्रोलियम उत्पादों और डीजल की कीमतों में भारी बढ़ोतरी से आहत इस्लामाबाद के निवासियों ने जमात-ए-इस्लामी के बैनर तले विरोध प्रदर्शन किया और कीमतों को वापस लेने की मांग की। मीडिया को संबोधित करते हुए स्थानीय निवासी मोहम्मद काशिफ चौधरी ने कहा कि जमात-ए-इस्लामी के अमीर (नेता) सिराज-उल-हक के आह्वान पर पूरे देश में पेट्रोलियम उत्पादों के दामों में बढ़ोतरी और नेताओं की बेशर्मी को लेकर धरना प्रदर्शन किया जा रहा है।

ऐसे समय में जब वैश्विक बाजार में पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतें कम की जा रही थीं, पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में 12 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई, जबकि डीजल की कीमतें भी रात के अंधेरे में बढ़ीं। उससे पहले, बिजली की दरें एसएमपी के नाम पर बढ़ाए गए थे।

यह कहते हुए कि मुद्रास्फीति ने जनता के जीवन के हर क्षेत्र को प्रभावित किया है। उन्होंने देश के नेताओं से आग्रह किया कि यदि वे राष्ट्र को कोई राहत नहीं दे सकते हैं, तो वे इस्तीफा दे दें। एक अन्य निवासी जमील खोखर ने कहा कि यह उन नेताओं को बाहर निकालने का समय है, जिन्होंने आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी करके देश को तबाह कर दिया।

उन्होंने कहा, लोगों को सड़कों पर उतरना चाहिए और ऐसे नेताओं का विरोध करना चाहिए। अगर हाल ही में पेट्रोलियम की कीमतों में बढ़ोतरी को नियंत्रित नहीं किया गया तो हम लोगों को एक साथ इकट्ठा करेंगे और एक बड़ा विरोध प्रदर्शन करेंगे ताकि इस फैसले को वापस ले लिया जाए।

आईएएनएस