दैनिक भास्कर हिंदी: CBSE ने छात्रों के लिए उठाया नया कदम, अब 10वीं में गणित के होंगे दो पेपर

December 26th, 2019

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अक्सर छात्रों के मन में गणित विषय के लिए डर बना रहता है। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने छात्रों के इसी डर को देखते हुए 10वीं कक्षा की गणित के लिए एक नया कदम उठाया है। अब 10वीं में गणित के दो पेपर होंगे। परीक्षा के दौरान छात्र इन दो पेपरों में से किसी एक का चयन कर सकेंगे। पहला पेपर 'बेसिक' होगा, जिसमें सामान्य से भी आसान सवाल पूछे जाएंगे। वहीं दूसरा पेपर 'स्टैंडर्ड' होगा, जिसमें सामान्य से थोड़े कठिन सवाल पूछे जाएंगे।

'बेसिक' मैथ्स का चयन करने वाले छात्र 11वीं में गणित विषय नहीं ले सकेंगे। दरअसल गणित से डर के कारण बहुत से छात्र अनिवार्यता के कारण परीक्षा तो देते हैं, लेकिन परिणाम आने पर या तो वे असफल हो जाते हैं यो फिर कम अंक प्राप्त करते हैं। इसी क्रम में CBSE द्वारा 10वीं के छात्रों के लिए 'मैथ्स टू लेवल प्रोग्राम' की शुरूआत की गई है।

बता दें कि कोर्स या सिलेबस में किसी भी प्रकार का कोई बदलाव नहीं किया गया है, बल्कि सिर्फ क्वेशन पेपर को क्लासिफाइड किया गया है।  अब तक मैथ्स का सिर्फ एक ही पेपर होता था, लेकिन अब दो तरह के पेपर होंगे- कठिन और सरल। CBSE के एक कोऑर्डिनेटर बलविंदर सिंह ने बताया कि इस कदम से छात्र, तनावमुक्त होकर परीक्षा दे सकेंगे।

गौरतलब है कि होली के बाद फरवरी-मार्च, 2019 में 10वीं की परीक्षा होने वाली है। अब तक गणित में 30 सवाल पूछे जाते थे, लेकिन इस परीक्षा में गणित के पेपर में करीब 40 सवाल पूछे जाएंगे। इसमें करीब 20 सवाल ऑब्जेक्टिव रहेंगे, जो 1 अंक के होंगे। जबकि बाकी के सभी सवालों को हल करना होगा, जो अधिक अंक के होंगे।

खबरें और भी हैं...