दैनिक भास्कर हिंदी: नक्सलियों को रसद पहुंचाने वाले 11 नक्सली हिरासत में

May 12th, 2018

डिजिटल डेस्क बालाघाट । जिले में पुलिस ने सर्चिंग ऑपरेशन के जरिए नक्सलियों के सहयोगियों को हिरासत में लेकर सप्लाई चैन को तोड़ने में बड़ी सफलता हासिल की है। इंटलिजेंस ब्यूरो से मिल रहे इनपुट के बाद बालाघाट रेंज के ए.डी.जी.पी. जी. जर्नादन के निर्देशन में सी.आर.पी.एफ. ने लगभग सप्ताह भर चले सर्च ऑपरेशन में नक्सलियों के टाडा और मलाजखंड दलम को नक्सल साहित्य से लेकर रसद तक पहुंचाने वाले 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। 

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों के टाडा, मलाजखंड और दर्रेकसा दलम तथा विस्तारित प्लाटून नं. 2 और 3 के लिए कुछ लोग संगम सदस्य के रूप में अलग-अलग क्षेत्रो में उनके लिए दैनिक उपयोग की वस्तुएं और नक्सल साहित्य जुटाने का काम करते है। इस इनपुट के बाद बालाघाट पुलिस रेंज में एक व्यापक सर्च ऑपरेशन चलाया गया था। जिसमें सी.आर.पी.एफ. की सर्चिंग पार्टीयों को लांजी थाना क्षेत्र अंर्तगत ग्राम इक्को से कोद्दापार जाने वाले जंगल में पांच संदिग्ध मिले।

इसी प्रकार मछुरदा से सुरक्षा बलो की दो पार्टियों ने भी प्राप्त सुचनाओं के आधार पर मछुरदा के चैकिंग प्वाइंट और सोन नदी के समीप जंगलो से 6 संदिग्धो को हिरासत में लिया गया है। सभी आरोपियों को विगत 10 मई को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया था। जहां से इनके द्वारा अपराधों में संलिप्तता की जांच के लिए उन्हे पुलिस रिमांड में लिया गया है।

ये आरोपी हुए गिरफ्तार
गिरफ्तार किए गए लोगों में  पतिराम पिता बीरबल मरकाम उम्र 23 वर्ष निवासी मुरूम चौकी सोनगुड्डा, राजेश पिता सुखबल मरकाम उम्र 20 वर्ष निवासी मुरूम चौकी सोनगुड्डा, जेलू पिता समरत मरकाम उम्र 26 वर्ष निवासी मुरूम चौकी सोनगुड्डा, ज्ञानसिंह पिता बीरबल मरकाम उम्र 25 वर्ष निवासी मुरूम चौकी सोनगुड्डा, जयसिंह पिता समरत मरकाम उम्र 22 वर्ष निवासी मुरूम चौकी सोनगुड्डा बताया।

वहीं ग्राम मछुरदा में नक्सली साहित्य, पाम्पलेटस व बैनर एवं अन्य दैनिक उपभोग सामग्री रखने के संबंध में सूचना मिलने पर चौकी मछुरदा से सुरक्षा बलों की दो पार्टी तैयार कर ग्राम मछुरदा में चेकिंग पाइंट लगाया जाकर तीन नक्सली सहयोगियों को पकड़ा जिन्होने अपना नाम सोमलाल परते निवासी अडोरी, मुकेश वरकड़े निवासी कुर्रेमेटा, रज्जू परते निवासी अडोरी बताया। तथा इनकी निशादेही पर सोन नदी के किनारे पहुंचकर अन्य तीन नक्सली सहयोगियों को पकड़ा जिन्होने अपना नाम ईश्वर मरकाम निवासी सोनगुड्डा, संजू मरावी निवासी अडोरी, समारू सिंह बताया।

नक्सल ट्रेनिंग के विडिय़ो से लेकर रसद तक बरामद
पुलिस को इन आरोपियों से पैन ड्राईव, नक्सल साहित्य, प्रशिक्षण के लिए काम में आने वाले विडिय़ो, पाम्पलेट बैनर, साबुन, चायपत्ती, नमक, माचिस, टूथपेस्ट, सोयाबीन तेल, दवाईयां आदि मिली है जो कि उक्त आरोपी नक्सलियों तक पहुंचाने ले जा रहे थे।

इनका कहना है...
जिले के अंदरूनी नक्सल प्रभावित क्षेत्र में गिरफ्तार नक्सल सहयोगियों द्वारा सक्रिय रूप से नक्सलियों को रसद और साथ साथ पुलिस के मूवमेंट की जानकारी देने का काम किया जाता था। ये आरोपी नक्सलियों की विचारधारा के प्रचार प्रसार और नई भर्तियों सहित सभी तरह के अपराध में शामिल रहे है। हमने फिलहाल इन्हे पुलिस रिमांड में लिया है। जिससे नक्सल दलमों के संबंध में कई महत्वपूर्ण जानकारी मिलने की उम्मीद है।
जी.जर्नादन,ए.डी.जी.पी. नक्सल रेंज, बालाघाट.