• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • 6 minutes talk with Champa Singh of Anuppur district under dialogue with self-reliant women power

सशक्त होगी नारी तो देश होगा सशक्त - प्रधानमंत्री: आत्मनिर्भर नारी शक्ति से संवाद के तहत अनूपपुर  जिले की चंपा सिंह से 6 मिनट 36 सेकंड की बात

August 12th, 2021

 डिजिटल डेस्क अनूपपुर । 12 अगस्त को दीनदयाल अंत्योदाय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत आत्मनिर्भर नारी शक्ति से संवाद कार्यक्रम के तहत भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियों कांफ्रेंसिंग के माध्यम से देश के पांच राज्यों मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, तमिलनाडू, मणिपुर के एक-एक स्वयं सहायता समूह की हितग्राहियों से संवाद किया। जिसके तहत अनूपपुर जिले के पुष्पराजगढ़ के ग्राम सोनियामार की कृष्णा स्वयं सहायता समूह की कृषि सखी चंपा सिंह से संवाद करते हुए उनके जीवन के संघर्ष तथा आत्मनिर्भर बनने के सफर को जाना। 6 मिनट 36 सेकंड तक प्रधानमंत्री ने जिले की चंपा सिंह से बात की इस दौरान चंपा द्वारा बनाए गए जैविक उत्पादों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म प्रदान करने के लिए राज्य सरकार से सहयोग की बात भी कही।
चंपा ने बताया अपना संघर्ष
 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से संवाद करते हुए कृषि सखी चंपा सिंह ने बताया कि उनका जन्म बेहद गरीब परिवार में हुआ है, 11 वर्ष की आयु में मेरे पिता का देहांत हो गया। जिसके चलते पढ़ाई में भी व्यवधान उत्पन्न हुआ। मॉ की सहायता के लिए उन्हे जिम्मेदारी उठानी पड़ी। जीवन के उतार-चढ़ाव के बीच संघर्ष का मार्ग तय करते हुए उनका विवाह हुआ, विवाह के 2 महीने बाद ही पति का भी आकस्मिक निधन  हो गया। जिससे जीवन कठिन लगने लगा। पर दीनदयाल अन्त्योदय योजना के राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी, आजीविका मिशन के माध्यम से पांच प्रदेशों में आजीविका संवर्धन के प्रशिक्षण प्राप्त किए। प्रशिक्षण से प्राप्त ज्ञान का उपयोग कर कौशल विकास व आजीविका संवर्धन के लिए सार्थक प्रयास प्रारंभ किए।  
अभियान चला कर दे प्रशिक्षण
चम्पा सिंह ने प्रधानमंत्री को बताया कि उन्होंने जैविक कृषि के लिए कीटनाशक खाद्य आदि के क्षेत्र में भी स्व-सहायता समूह के माध्यम से किए गए कार्यों की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। जिस पर प्रधानमंत्री श्री मोदी ने प्रसंशा व्यक्त करते हुए उनके कार्यों की सराहना की।   जैविक खेती के लिए जैविक कीटनाशक, खाद्य तैयार करने व इस सम्बंध में अभियान चलाकर प्रशिक्षण देने की जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि नारी शक्ति मन में ठान ले तो परिवर्तन आता ही है। उन्होंने कहा कि नारी सशक्त होगी, तो परिवार और देश भी सशक्त होता है। प्रधानमंत्री  ने चम्पा सिंह को नारी सशक्तिकरण का प्रतीक बताया। उन्होंने उनके कार्यों की सराहना करते हुए जैविक खेती सम्बन्धी प्रशिक्षण में टेक्नालॉजी का उपयोग कर ऑनलाईन प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारंभ कर देश के अन्य राज्यों के स्वसहायता समूह की महिलाओं को प्रशिक्षित करने का सुझाव दिया। उन्होंने ऑनलाईन टेक्नालाजी के कार्य में मध्यप्रदेश सरकार को आवश्यक सहयोग प्रदान करने की बात भी कही।

खबरें और भी हैं...