छावनी में तब्दील रहा बिजुरी नगर: लगभग दो हजार लोग एकत्रित होकर यात्री ट्रेन प्रारंभ करने की मांग को लेकर पटरी पर बैठे 

April 30th, 2022

डिजिटल डेस्क, अनूपपुर। बीते 2 वर्षों से बंद पड़ी यात्री ट्रेन सुविधा को प्रारंभ कराने के लिए 30 अप्रैल की सुबह 10:00 बजे राज्य के अंतिम छोर बिजुरी नगर में रेल संघर्ष समिति के बैनर तले नागरिकों ने रेल्वे प्रबंधन के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए रेल की पटरी में बैठ कर अपना विरोध दर्ज कराया। रेल रोको आंदोलन को देखते हुए सुबह से ही नगर में भारी पुलिस बल को तैनात किया गया था, चप्पे-चप्पे पर पुलिस के जवान मौजूद रहे सुबह 10:00 बजे नगर के पीपल चौक पर लोगों का एकत्रित होना शुरू हुआ जिसके बाद लगभग दो हजार लोग रेल्वे स्टेशन की तरफ चल पड़े। लोगों की मांग थी कि जब यात्री ट्रेन नहीं चल रही है तो फिर हम माल गाड़ियों को भी अपने नगर से नहीं गुजरने देंगे। मौके पर रेल प्रबंधन की ओर से डिविजनल व्यवसायिक प्रबंधक अशोक कुमार भारद्वाज तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन के साथ ही 2 सैकड़ा से ज्यादा पुलिसकर्मी भी मौजूद थे। रेल्वे के द्वारा 15 दिनों की मोहलत मांगी गई है जिसके बाद यह आंदोलन समाप्त हुआ।

रेल संघर्ष समिति के आह्वान पर सुबह से ही पीपल चौक में लोगों का एकत्रीकरण प्रारंभ हो गया था।
लोगों के हुजूम को देखते हुए संभाग भर से पुलिस बल बुलवाया गया था, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन स्वयं ही मौके पर कमान संभाले हुए थे, एक दर्जन से ज्यादा कैमरा से वीडियोग्राफी कराई जा रही थी, वही सीसीटीवी कैमरे की मदद से भी आंदोलन पर निगरानी रखी जा रही थी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन ने बताया कि आंदोलन प्रारंभ करने के पूर्व ही लोगों को समझाइश दी दी गई थी, की आंदोलन में किसी भी तरह का उपद्रव नहीं होना चाहिए।
 

खबरें और भी हैं...