comScore

पहले प्रेमिका और फिर पत्नी की हत्या, पुलिस पूछताछ में आरोपी ने खोला सालों पुराना राज

August 09th, 2018 14:35 IST
पहले प्रेमिका और फिर पत्नी की हत्या, पुलिस पूछताछ में आरोपी ने खोला सालों पुराना राज

डिजिटल डेस्क, बालाघाट। लांजी नगरीय क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 13 में पत्नी वंदना मुरकुटे के हत्यारे पति वीरेन्द्र मुरकुटे ने सालों पहले रमपुरा निवासी 18 वर्षीय युवती की भी हत्या की थी। पत्नी की हत्या के बाद फरार चल रहा आरोपी पति वीरेन्द्र मुरकुटे को 6 अगस्त को आमगांव से लांजी पुलिस ने पकड़ा था। जिसे न्यायालय में पेश करने के बाद लांजी पुलिस ने हत्या के मामले में पूछताछ के लिए दो दिन की रिमांड पर लिया था। 

पुलिस पूछताछ में आरोपी वीरेन्द्र ने पत्नी की हत्या के साथ ही वर्ष 2008 में रमपुरा निवासी सरिता की हत्या करना भी स्वीकार किया है। सरिता की हत्या वीरेन्द्र ने रायपुर के डब्ल्युसीएल कॉलोनी खमतराई में उसकी चुनरी से गला घोंटकर कर दी थी। चूंकि उस समय शव की पहचान नहीं होने और हत्या को लेकर कोई घटनाक्रम सामने नहीं आने से रायपुर पुलिस अब तक उस हत्या को खोज नहीं सकी थी। 

2008 में की थी रायपुर मे प्रेमिका सरिता की हत्या 
लांजी पुलिस की मानें तो रिमांड के दौरान आरोपी वीरेन्द्र मुरकुटे ने वर्ष 2008 में रमपुरा निवासी 18 वर्षीय सरिता की चुनरी से गला घोंटकर हत्या किए जाने का अपराध स्वीकार किया है। पुलिस पूछताछ में आरोपी वीरेन्द्र ने बताया कि उसकी विवाह हुए कुछ ही महीने हुए थे, चूंकि सरिता उसकी प्रेमिका थी और वह लगातार उसे परेशान कर रही थी। सरिता ने उसके साथ विवाद किया जिससे आवेश में आकर उसने चुनरी से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी थी और शव को फेंक दिया था। जिसमें रायपुर पुलिस ने शव मिलने के बाद अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच में लिया था किन्तु रायपुर पुलिस अब तक आरोपी के बारे में पता नहीं कर सकी थी। 

पत्नी की हत्या कर जमीन में गढ़ा था शव 
अपराधी और रंगीन किस्म का अपराधी वीरेन्द्र रामटेके ने विगत 9 जुलाई को अपनी प्रेमिका के साथ मिलकर अपनी पत्नी वंदना उर्फ अंजना मुरकुटे की हत्या कर उसे खेत में गढ्ढा खोदकर गढ़ा दिया था। जब वंदना नजर नहीं आई तो परिजनों ने इसकी शिकायत पुलिस मे की थी। जिसके बाद पुलिस ने 13 जुलाई को वंदना का शव गढ्ढे से बरामद किया था। जिसकी हत्या में फरार चल रहे आरोपी वीरेन्द्र मुरकुटे की सहयोगी एक और प्रेमिका को गिरफ्तार करने के बाद गत 6 अगस्त को पुलिस ने आमगांव से गिरफ्तार किया था। 

रायपुर पुलिस ने आरोपी को रिमांड में लेने न्यायालय में लगाया आवेदन 
वर्ष 2008 में डब्ल्युसीएल कॉलोनी खमतराई में हुई युवती की हत्या की आरोपी विरेन्द्र मुरकुटे द्वारा स्वीकार किए जाने के बाद लांजी पुलिस ने रायपुर पुलिस से संपर्क कर घटना की जानकारी दी। जिसके बाद उक्त अंधे हत्याकांड में दर्ज अपराध में आरोपी की गिरफ्तारी के लिए रायपुर पुलिस ने आज न्यायालय में आरोपियों को पूछताछ के लिए रिमांड पर देने बालाघाट न्यायालय में आवेदन लगाया है। 

इनका कहना है
पत्नी वंदना मुरकुटे की हत्या में गिरफ्तार आरोपी पति विरेन्द्र मुरकुटे ने पुलिस रिमांड में पूछताछ के दौरान रमपुरा की 18 वर्षीय युवती की रायपुर में हत्या किए जाना भी स्वीकारा है। जिसकी जानकारी रायपुर पुलिस को दे दी गई है। आरोपी को आज रिमांड खत्म होने के बाद न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे न्यायिक रिमांड पर जेल भिजवा दिया गया है।
नितिन अमलावत, थाना प्रभारी, लांजी थाना

कमेंट करें
VJX0M