comScore

बारिश के बाद नदी और नाले उफान पर, एक दर्जन गांव का संपर्क टूटा

बारिश के बाद नदी और नाले उफान पर, एक दर्जन गांव का संपर्क टूटा

डिजिटल डेस्क,बालाघाट। लांजी क्षेत्र में हुई मूसलाधार बारिश के बाद मुख्यालय से तकरीबन 3 किमी दूर कांशीनाला उफान पर देखा गया। नाले  के उफान पर आते ही आसपास के एक दर्जन गांव का अपरान्ह बाद सड़क संपर्क टूट गया। जानकारी के अनुसार मंगलवार को लांजी मुख्यालय समेत आसपास के गांवो में लगभग एक घंटे तक मूसलाधार बारिश हुई। बारिश का सिलसिला देर शाम तक निरंतर जारी रहा। बारिश के चलते क्षेत्र के निचलें इलाको में भी पानी भर गया है। यहां लांजी से पौनी मार्ग के चिचटोला, सतीटेकरी के बीच पडऩे वाले रपटे पर तीन से चार फीट पानी आ गया।

जोखिम में नाला पार करते देखे गए ग्रामीण

यहां कांशीनाला पर पानी आने के बाद भी आसपास के ग्रामीणजनों को जोखिम में नाला पार करते देखा गया। मौके पर मौजूद लोगों की समझाईस के बाद लोगों ने आवागमन बंद किया। जबकि मार्ग से साइकिल सवार लोग कंधे पर साइकिल रखकर जोखिम उठाने से भी पीछे नही रहे। लोगों कहना रहा कि नाले पर पानी आते ही एक दर्जन गांव का संपर्क पूरी तरह से कट जाता है।

पहाड़ से आया पानी, तो उफना गया नाला

महज एक घंटे की बारिश में उफनाए नाले के संबंध में लोगों का कहना रहा कि पहाड़ से पानी आने के कारण यह पानी सीधे कांशीनाला में प्रवेश करता है जिससे नाला पूरी तरह से उफान पर आ जाता है। चूंकि उक्त नाला की उंचाई सड़क मार्ग से कम नीचे की ओर है ऐसी स्थिति में पुल नीचे होने के कारण नाले में बाढ़ आ जाती है।

जिला मुख्यालय समेत अन्य तहसील क्षेत्रों में हुई हल्की बारिश

इधर दूसरी तरफ जिला मुख्यालय समेत अन्य तहसील क्षेत्रों में मंगलवार को अपरान्ह के दौरान हल्की बारिश हुई। दोपहर 2 बजे के दौरान आधे घंटे तक हल्की बारिश हुई लेकिन बारिश रफ्तार नही पकड़ पाई और मौसम अपरान्ह बाद शुष्क हो गया लेकिन बादल पूरी तरह से छाए रहें।    

परसवाड़ा तहसील में सबसे अधिक 800 मि.मी. वर्षा

जिले में चालू वर्षा सत्र के दौरान एक जून से 13 अगस्त 2019 तक 577 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई है। जबकि गत वर्ष इसी अवधि में भी 642 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई थी। जिले की औसत सामान्य वर्षा 1447 मिमी है। चालू वर्षा सत्र-2019 में अब तक सबसे अधिक 800 मिमी वर्षा परसवाडा तहसील में तथा सबसे कम 228 मिमी वर्षा खैरलांजी तहसील में हुई है। इस वर्ष जिले में अब तक गत वर्ष की तुलना में 65 मिमी वर्षा कम हुई है। चालू वर्षा सीजन-2019 में बालाघाट तहसील में 720 मिमी, वारासिवनी में 737 मिमी, बैहर में 590 मिमी, लांजी में 499 मिमी, कटंगी में 316 मिमी, किरनापुर में 715 मिमी, लालबर्रा मे 563 मिमी, बिरसा में 678 मिमी तथा तिरोडी में 494 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई है।

कमेंट करें
tGrHc