दैनिक भास्कर हिंदी: स्वास्थ्य मंत्री के परीक्षण में जिला चिकित्सालय फेल : मिला शून्य

May 18th, 2018

डिजिटल डेस्क बालाघाट। प्रदेश शासन द्वारा चलाई जा रही विकास यात्रा में शामिल होने पहुंचे मध्यप्रदेश शासन के चिकित्सा शिक्षा, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं संसदीय कार्य राज्य मंत्री एवं बालाघाट जिले के प्रभारी शरद जैन ने आज 18 मई को सुबह पत्रकारों से चर्चा की। जहां उन्हें चिकित्सालय की अव्यवस्था के सवालों का सामना करना पड़ा।  मंत्री शरद जैन अपने काफिले के साथ जिला चिकित्सालय पहुंचे और यहां व्यवस्थाओं का जायजा लिया। मेडिकल कक्ष से अपने चिकित्सालय निरीक्षण में प्रभारी मंत्री शरद जैन ने मरीजों से उनके स्वास्थ्य की जानकारी के साथ ही आम लोगों से स्वास्थ्य सेवा की सुविधा का फीडबैक लिया।

इस दौरान दिखाई दी अव्यवस्था को लेकर उन्होंने नाराजगी जाहिर करते हुए चिकित्सालय की व्यवस्था को शून्य नंबर दिया और व्यवस्था को सुधारने के कड़े निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री इस दौरान अस्पताल की व्यवस्था देखकर ताड़ गए कि उनके आने की जानकारी मिलने के बाद चिकित्सालय प्रबंधन ने व्यवस्था में सुधार किया है, इस दौरान उन्होंने एक टीबी के गरीब मरीज को मेडिकल कॉलेज पहुंचाने वाहन व्यवस्था करने के स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए। चिकित्सा शिक्षा, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं संसदीय कार्य राज्य मंत्री एवं बालाघाट जिले के प्रभारी शरद जैन ने अस्पताल के बाथरूम में प्रवेश कर वहां की सफाई व्यवस्था का जायजा लिया और आयुष विभाग की स्थानीय स्तर की समस्या को सुनने के बाद आयुष विंग के आम लोगों को मिले बेहतर उपचार के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं बनाने के निर्देश दिए। 

विभागीय मामला बताकर व्यवस्था सुधारने चिकित्सको को दिए निर्देश। यहां पदस्थ डॉ. दिपाली वाकड़े से चर्चा के दौरान आयुष औषधालय में ईलाज के आंकड़ो की जानकारी दे रहे फार्मासिस्ट को रोकते हुए मंत्री शरद जैन ने कहा कि ऐसे आंकड़े तो हम भी बना लेते है। जिसको लेकर कई मायने निकाले जा रहे है। दूसरी ओर लगातार कांग्रेस यह आरोप लगाते रही है कि प्रदेश की सरकार आंकड़ो की बाजीगरी कर रही है दूसरी ओर प्रभारी मंत्री का आंकड़ो को लेकर की गई चर्चा ने कई सवाल खड़े कर दिए है।