दैनिक भास्कर हिंदी: करंट की चपेट में आने से सात बैलों की मौके पर ही मौत

June 5th, 2018

डिजिटल डेस्क, कटनी। जिला मुख्यालय से 50 किलोमीटर दूर सिंहुड़ी में तार गिरने से सात मवेशियों की मौत हो गई। घटना चलती लाइन में छेड़छाड़ कर चोरी से बिजली कनेक्शन जोड़ने के दौरान घटी। मृत मवेशी व्यापारियों के थे और मवेशियों की मौत के बाद वहां मौजूद ये व्यापारी भाग गए। बिजली विभाग लाइन से छेड़छाड़ करने वाले ग्रामीणों की पहचान कर रही है। बिजली विभाग नीचे लटक रहे तारों को ऊपर करने का काम प्रारंभ कर दिया।

चलती लाइन से कर रहे थे छेड़छाड़
जानकारी के मुताबिक बाकल से करीब दस किलोमीटर दूर सिंहुुड़ी गांव के कुछ ग्रामीण चलती लाइन से छेड़छाड़ कर रहे थे। गौरतलब हो कि बाकल के आसपास दर्जनों गांवो में ग्रामीणों ने  बांस का खंभा बनाकर बिजली का तार जोड़ लिया है जिसके चलते वहां पर हमेशा खतरा बना रहता है। करीब एक दर्जन ग्रामीण मंगलवार को 11 केवी की चलती लाइन में तार जोड़ने का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान हाइटेंशन लाइन का तार टूट गया। तार मवेशियों के उपर गिर पड़ा। जिसके चलते चारा खा रहे सात मवेशियों की मौके पर ही मौत हो गई।

व्यापारी घटना स्थल से फरार
स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि जैसे ही मवेशियों की मरने की खबर मिली। वहां पर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण पहुंच गए। ग्रामीणों का कहना है कि सिंहुड़ी में कुछ व्यापारी मवेशी बेचने के लिए आए थे। मवेशियों की मौत के बाद व्यापारी वहां से फरार हो गए। पुलिस ने ग्रामीणों से पूछताछ की तो पता चला कि मवेशी ग्रामीणों के नहीं हैं। पुलिस ने अज्ञात मवेशी दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

बांस पर लटके तारों को हटाया जाएगा
बिजली विभाग के उपयंत्री अभिलाष निगम ने बताया कि क्षेत्र में बांस के उपर लटक रहे तारों को जल्द ही हटाया जाएगा। श्री निगम के मुताबिक बाकल के आसपास दर्जनों गांवो में बांस के जरिए बिजली के तार दौड़ाए गए है। अनाधिकृत रूप से ग्रामीण बिजली का उपभोग कर रहे है। तेज हवा और आंधी के समय कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। उन्होंने कहा कि चलती बिजली के दौरान छेड़छाड़ करने वालों की पहचान की जा रही है। उनके खिलाफ कार्रवाई भी होगी।

इनका कहना है
मामले की जानकारी कराई जा रही है। जो तथ्य सामने आएगा, उसी के मुताबिक कार्रवाई होगी।
केबीएस चौधरी, कलेक्टर