दैनिक भास्कर हिंदी: सावधान - 40 दिन से लगातार घट रहा कोरोना का रिकवरी रेट, 10 फीसदी तक की आई कमी

April 10th, 2021

जिस अनुपात में पीडि़त आ रहे उसके मुकाबले कम हुई ठीक होने वालों की संख्या
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
कोरोना वायरस जब नियंत्रित था तो  इसका रिकवरी रेट 98 प्रतिशत के आँकड़े को छूने बेताब था। 40 दिन पहले रिकवरी रेट 97.81 प्रतिशत था जो अब घटकर 88 प्रतिशत पर आ गया है। हर दिन यह बीते दिन के मुकाबले घटता जा रहा है। इसकी वजह यह है कि जितने मरीज अब सामने आ रहे हैं उसके अनुपात में ठीक होने वालों की संख्या लगातार घट रही है। कुछ दिनों से संक्रमण को लेकर हालात पहले के मुकाबले एकदम उलट होते जा रहे हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि जब तक कोरोना के नये केसों की संख्या नहीं घटती तब तक रिकवरी रेट अब घटता चला जाएगा। अस्पताल में बिस्तर कम पड़ेंगे और संसाधन भी इस लिहाज से बौने साबित होने लगेंगे। किसी भी शहर में कोरोना के रिकवरी रेट बढऩे का संकेत है कि अब स्थिति बेहतर हो रही है। जब रिकवरी रेट घटने लगे तो ज्यादा सतर्कता की जरूरत है। शहर में 1 मार्च को रिकवरी रेट 97.78 प्रतिशत था तो 9 अप्रैल की शाम तक यह 88 प्रश. पर आ गया। इस आँकड़े में हर दिन घटता हुआ परिवर्तन सामने आ रहा है। 
अभी सबसे बेहतर उपाय यही 
वैक्सीन ज्यादा लोगों को लगने के साथ संक्रमण की दर धीरे-धीरे कम होगी। विशेषज्ञों के अनुसार अपनी बारी आने पर वैक्सीन लगवाएँ लेकिन अभी कोरोना का नियंत्रण करना है तो सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाना अनिवार्य है। इसका पालन न होने पर संक्रमण की दर बढऩे से कोई नहीं रोक सकता है। फिलहाल लापरवाही ज्यादा घातक साबित हो सकती है। 

खबरें और भी हैं...