• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Congress party high command gave the mantra to win in the election, Congressmen clashed as soon as they reached Anuppur

-दोनों पक्षों के सात लोगों के ऊपर अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत मामला पंजीबद्ध: कांग्रेस पार्टी आलाकमान ने दिया चुनाव में जीतने का मंत्र, अनूपपुर पहुंचते ही भिड़े कांग्रेसी

January 19th, 2022


डिजिटल डेस्क अनूपपुर। 18 जनवरी को मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के द्वारा आगामी पंचायत चुनाव को देखते हुए अनूपपुर जिले के जिला अध्यक्ष सहित सभी मोर्चे के जिला अध्यक्षों को बुलाया गया था। जहां बैठक में पदाधिकारियों को आगामी पंचायत चुनाव में कार्य करने के तरीके और एकता के साथ कांग्रेस के पक्ष में सदस्यता अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए गए थे। बैठक में शामिल होने के बाद सभी पदाधिकारी नर्मदा एक्सप्रेस से अनूपपुर वापस आए जहां स्टेशन में उतरने के साथ ही कांग्रेस पदाधिकारियों के  दो पक्ष आपस में भिड़ गए स्टेशन परिसर में ही धक्का-मुक्की की स्थिति निर्मित हो गई। स्थानीय लोगों के द्वारा बीच.बचाव किया गया जिसके बाद दोनों पक्ष कोतवाली अनुपपुर पहुंचे और एक दूसरे पर जान से मारने की धमकी देने के साथ ही जातिगत अभद्रता करने के आरोप भी लगाए।
जनपद अध्यक्ष ने लगाए आरोप
कोतवाली में की गई पहली शिकायत में कांग्रेस समर्थित अनूपपुर जनपद अध्यक्ष श्रीमती ममता सिंह ने आरोप लगाया कि उनके द्वारा 18 जनवरी को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से कोतमा विधायक सुनील सराफ की शिकायत की थीए जिसके बाद उनके समर्थक उन से बैर रखने लगे। 19 जनवरी को जब वे अनूपपुर रेलवे स्टेशन में उतरी तो एनएसयूआई जिलाध्यक्ष संजय सोनीए किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र सोनी एवं एक अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ता जितेंद्र सोनी मेरे साथ धक्का-मुक्की करने लगे और जातिगत रूप से अपमानित करते हुए कहा कि भोपाल में कराए गए हमले में जिंदा बचकर आ गए हो आगे अब ऐसा नहीं होने देंगे जनपद अध्यक्ष की शिकायत पर तीनों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं  के विरुद्ध धारा 294, 323, 506, 34 तथा अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम की धारा 3(1)(द), 3(1)(ध), 3(2)(व्हीए) के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया।
दूसरा पक्ष भी पहुंचा थाने
जनपद अध्यक्ष के थाना पहुंचने के चंद मिनटों के बाद ही दूसरा पक्ष भी कोतवाली पहुंचा जहां ऋषि वंशकार नामक युवक के द्वारा शिकायत की गई कि वह किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र सोनी को रिसीव करने के लिए अपने साथियों के साथ रेलवे स्टेशन गया था जहां राजकुमार शुक्लाए रिंकू मिश्राए विक्रमा सिंह तथा दीपू शुक्ला के द्वारा मेरे साथ मारपीट करने के साथ ही जातिगत रूप से अपमानित किया गया। ऋषि बंशकार की शिकायत पर चारों आरोपियों के विरुद्ध 294, 323, 506, 34 तथा अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम की धारा 3(1)(द), 3(1)(ध), 3(2)(व्हीए) के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया।
सोशल मीडिया में छाया रहा मुद्दा
19 जनवरी की सुबह लगभग 11 बजे घटित हुई यह घटना सोशल मीडिया में भी सुर्खियां बटोर रही थी। भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष ने भी पूरे मामले में चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ता जाएंगे जेल तो कुछ कार्यकर्ता जाएंगे थाने उनका चालए चरित्र और चेहरा उजागर हो रहा है।
इनका कहना है
यह दो व्यक्तियों के आपस का विवाद था उसे पार्टी से जोड़कर बताया जा रहा है। दोनों पक्षों से चर्चा कर विवाद का पटाक्षेप कराया जाएगा इसे अनावश्यक ही तूल दिया जा रहा है।
प्रेम कुमार त्रिपाठी
सचिवए मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी
दोनों पक्षों से की गई शिकायत के बाद दोनों के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध करते हुए विवेचना की जा रही है।
अभिषेक राजन
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनूपपुर