comScore

दमोह - वार्ड में घंटों पड़े रहे शव, मौत का भरोसा नहीं होने पर परिजनों का हंगामा

दमोह - वार्ड में घंटों पड़े रहे शव, मौत का भरोसा नहीं होने पर परिजनों का हंगामा

डिजिटल डेस्क दमोह । कोरोना संक्रमण काल में स्वास्थ्य सेवाएं भी संक्रमित हो गई हैं। शुक्रवार को जिला अस्पताल दमोह के बच्चा वार्ड व प्री-कोविड वार्ड में भर्ती तीन मरीजों की मौत होने के बाद उनके शव तीन घंटे से अधिक समय तक बिस्तर पर ही पड़े रहे। बच्चा वार्ड में भर्ती मरीज के परिजनों ने बताया, शुक्रवार शाम करीब 4 बजे एक महिला की मौत हो गई, जिसे काफी देर तक ऑक्सीजन भी लगी रही। जबकि वहीं भर्ती एक पुरुष की करीब 5 बजे मौत हो गई। दोनों के शव रात 8 बजे तक वार्ड में ही बिस्तर पर पड़े रहे, जिसे देख आसपास भर्ती मरीज असहज नजर आए। जबकि उनके परिजन शव उठाने के लिए परेशान होते नजर आए। 
प्री-कोविड वार्ड में स्टाफ को मारने दौड़े परिजन
प्री-कोविड वार्ड में परिवर्तित हुए महिला वार्ड में भी एक व्यक्ति की शुक्रवार दोपहर करीब साढ़े 3 बजे मौत हो गई। जांच के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजन बिफर उठे। समझाइश देने पहुंचे पुलिसकर्मियों और अस्पताल स्टाफ को मारने दौड़े। परिजन शव के पास किसी को जाने नहीं दे रहे थे। मौत का भरोसा नहीं होने पर बॉडी की पंपिंग करते रहे। परिजनों ने हंगामा करते हुए पास पहुंचने वालों से दुव्र्यवहार किया, जिससे वार्ड में अफरा-तफरी का माहौल बन गया और आसपास के मरीज परेशान होते नजर आए। करीब एक घंटे चले हंगामे के बाद शव हटाया जा सका।   
 

कमेंट करें
ZnTAf