दैनिक भास्कर हिंदी: विचाराधीन कैदी की मौत - बलात्कार के मामले में 9 माह से था बंद

October 24th, 2019

 डिजिटल डेस्क बालाघाट। बलात्कार के मामले में बालाघाट उपजेल में बंद विचाराधीन कैदी की मौत हो गई। बताया जाता है कि बीमारी के चलते उसे गत दिवस उपचारार्थ जिला चिकित्सालय में लाया गया था। विचारधीन कैदी खैरलांजी थाना अंतर्गत कुम्हली निवासी लगभग 33 वर्षीय राजेशसिंह पिता शिवासिंह की मौत की जानकारी के बाद अस्पताल चौकी पुलिस ने शव बरामद कर नायब तहसीलदार प्रतिभा पटेल की मौजूदगी में पंचनामा कार्यवाही करके शव का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है।
9 माह से जेल में बंद था
पुलिस ने बताया कि आरोपी राजेशसिंह बलात्कार के मामले में करीब 9 माह से जिला जेल में बंद था। जिसका मामला न्यायालय में चल रहा था। जो गंभीर बीमारी से पीडि़त था जिसका जेल में बंद होने के पूर्व से ही बीमारी से ग्रसित होने के कारण उपचार चल रहा था। जेल में ही 21 अक्टूबर को राजेशसिंह की तबियत खराब होने पर उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था। जिसकी उपचार दौरान 23 अक्टूबर की सुबह करीब 10.30 बजे मौत हो गई। पुलिस द्वारा इसकी सूचना मृतक के परिजनों को दी गई। सूचना मिलने पर मृतक के परिजन भी अस्पताल पहुंचे थे।
 

खबरें और भी हैं...