दैनिक भास्कर हिंदी: पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ - नक्सली सामग्री बरामद

February 24th, 2020

डिजिटल डेस्क बालाघाट। बहेला थाना क्षेत्र अंतर्गत बालाघाट और राजनांदगांव की सीमा पर कोसमदेही के जंगल में नक्सल दलम के कैंप होने की पुख्ता और सटिक जानकारी बालाघाट पुलिस को मिली थी। बालाघाट पुलिस ने इस जानकारी को राजनांदगांव एसपी के साथ शेयर किया। जिसके बाद छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा नक्सलियों को पकडऩे संयुक्त कार्यवाही की गई। जिसमें राजनांदगांव पुलिस के अलावा बालाघाट में तैनात दो हॉकफोर्स की टीम, जंगल में कैंप कर रहे नक्सलियों तक पहुंची। चूंकि नक्सली उंचाई पर थे, जिससे  सुरक्षा बलों की आहट मिलते ही नक्सयिों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसके जवाब में छत्तीसगढ़ और हॉकफोर्स की टीम ने भी जवाबी फायरिंग की। फायरिंग से घबराये नक्सली वहां से जंगलो की ओर भाग गये। नक्सली कैंप से कार्यवाही कर रही टीम ने रोजमर्रा की सामग्री के अलावा नक्सलियों के पिटु बैग भी बरामद किये है। नक्सली उन्मूलन के खिलाफ ज्वाईंड ऑपरेशन कर रही बालाघाट और छत्तीसगढ़ पुलिस ने मुठभेड़ के बाद जंगलों में भागे नक्सलियों की तलाश के लिए सर्चिंग अभियान तेज कर दिया और बालाघाट एवं राजनांदगांव से सुरक्षाबलों की अन्य टुकडिय़ों को भी जंगल भेजा गया है। पुलिस का मानना है कि नक्सलियों को अब बचने का मौका नहीं दिया जायेगा।
नक्सली के आहत होने की सूचना पर नहीं मिला शव
पुलिस की मानें तो जंगल में नक्सली कैंप की सूचना के बाद नक्सलियों को पकडऩे पहुंची मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ पुलिस की संयुक्त कार्यवाही के दौरान सुरक्षाबलो की ओर से की गई फायरिंग में नक्सली के आहत होने की सूचना मिल रही है लेकिन किसी नक्सली का अब तक शव नहीं मिला है। पुलिस का मानना है कि आगामी 24 से 48 घंटे काफी महत्वपूर्ण है। सुरक्षाबलों के जवानों ने पूरे जंगल को घेर लिया है और नक्सलियों के मुठभेड़ के बाद जंगल में भागे नक्सलियों की तलाश की जा रही है।
 बौखलाये नक्सली
पुलिस की मानें तो 15 फरवरी को बहेला थाना अंतर्गत कोसमदेही और विगत 22 फरवरी की शाम गढ़ी क्षेत्र के ब्रम्हनी दादर से पुलिस ने बड़ी मात्रा में नक्सली सामग्री बरामद की थी। जिसे पूरी तैयारी के साथ नक्सलियों ने छिपाकर रखा था। नक्सलियों की तैयारी पर पुलिस ने बड़ी चोट की थी। जिससे नक्सली बौखलाये है, हालांकि पुलिस का मानना है कि मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र पुलिस नक्सली क्षेत्र को छोड़कर चलाये जाये, इसके लिए लगातार ऑपरेशन चला रही है।
दैनिक सामग्री, पिट्टु बैग, साहित्य और खाना बरामद
छत्तीसगढ़ पुलिस और जिले में तैनात हॉकफोर्स की टीम द्वारा नक्सलियों के खिलाफ की गई संयुक्त कार्यवाही में मुठभेड़ के बाद नक्सली कैंप स्थल से पुलिस ने दैनिक उपयोग की सामग्री, लगभग सात-आठ पिट्टु बैग, साहित्य और पकाया हुआ खाना बरामद किया है। पुलिस की मानें तो इस दौरान यहां पर 12 से 15 नक्सली थे। जिनके यहां होने की सटिक सूचना के बाद छत्तीसगढ़ और हॉकफोर्स की टीम ने संयुक्त कार्यवाही कर नक्सलियों को भागने पर मजबूर कर दिया।
इनका कहना है
बहेला थाना क्षेत्र अंतर्गत बालाघाट और राजनांदगांव की सीमा पर नक्सली दलम की सूचना मिली थी। यह जानकारी हमने राजनांदगांव एसपी से शेयर की। जिसके बाद छत्तीसगढ़ पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन लांच किया इसमें जिले में तैनात हॉकफोर्स की दो टीमें शामिल थी। 
अभिषेक तिवारी, पुलिस अधीक्षक