दैनिक भास्कर हिंदी: अनूपपुर जिले के स्वास्थ्य विभाग का कारनामा , होम आइसोलेशन में फर्जीवाड़ा -10 मोबाइल नंबर का 26 बार उपयोग 

April 6th, 2021

स्वास्थ्य विभाग का होम आइसोलेट मरीजों से सुबह-शाम बात कर निगरानी का दावा
डिजिटल डेस्क अनपपुर ।
कोरोना के कहर के बीच अनूपपुर जिले में होम आइसोलेट मरीजों की निगरानी में बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है। 3 व 4 अप्रैल को पॉजिटिव मिले 71 संक्रमितों की सूची में जब इन मरीजों से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उनके नाम के आगे दर्ज 10 मोबाइल नंबर ऐसे निकले, जिनका उपयोग 26 मरीजों के नाम के आगे किया गया है। इतना ही नहीं 3 मरीजों के नाम के सामने फुनगा चिकित्सालय में पदस्थ डॉ. हरिशंकर वस्त्रकार का मोबाइल नंबर (9993919995) दर्ज है। स्वास्थ्य अमले के खानापूर्ति भरे इस कारनामे से कोरोना नियंत्रण पर सवाल खड़ा हो गया है। जबकि स्वास्थ्य विभाग का दावा है, होम आइसोलेशन में रह रहे सक्रिय मरीजों से सुबह-शाम बात कर उन पर निगरानी रखी जा रही है। 
इन नंबरों का बार-बार उपयोग 

 स्वास्थ्य अमले ने मोबाइल नंबर 9826808050 का उपयोग 5 बार, 9340369042 का 2 बार, 9993919995 का 3 बार, 7974543286 2 बार, 8770989259 का 2 बार, 6268153950 का 2 बार, 8817617131 का 4 बार, 8966900882 का 2 बार, 8871934763 का 2 बार, 9589265537 का 2 बार उपयोग किया गया है। 
होम आइसोलेशन 
में 118 मरीज7कोरोना संक्रमण के बावजूद जिले में क्वारंटीन सेंटर नहीं हैं। जिले में वर्तमान में 119 सक्रिय मरीज हैं। इनमें से एक का उपचार नागपुर में हो रहा है। 118 व्यक्ति होम आइसोलेशन में हैं। संक्रमित व्यक्तियों की तबीयत खराब होने पर उन्हें शहडोल मेडिकल कॉलेज समेत दूसरे बड़े शहरों में रेफर करने के निर्देश हैं। 
खानापूर्ति का हो गया खुलासा
जब राजेंद्रग्राम के एक मरीज से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो वह नंबर ही इनवैलिड था। इसके बाद राजेंद्रग्राम के ही तीन अन्य मरीजों से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो तीनों में कॉल रिसीव करने वाले व्यक्ति ने कहा, यहां कोई पॉजिटिव नहीं है, हमारा नंबर किसने दे दिया। तीन मोबाइल नंबर ऐसे भी थे, जिनका उपयोग करने वाले दूसरे राज्यों में मिले और वह संक्रमित नहीं हैं।

खबरें और भी हैं...