खुदकुशी रोकेगा फैन!: IIM के प्रोफेसर ने बनाया तीन तालों वाला पंखा, फैन से लटककर आत्महत्या के मामलों में कमी आने का दावा, अविष्कार को पेटेंट कराने की तैयारी

May 19th, 2022

डिजिटल डेस्क,भोपाल। बीते कई सालों से देश में सुसाइड (आत्महत्या) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। सुसाइड के इन मामलों में सबसे प्रचलित तरीका है पंखे से लटककर फांसी लगाना। लेकिन अब एक ऐसा अविष्कार हुआ है, जो पंखे (fan) से लटककर आत्महत्या करने के मामलों में कमी ला सकता है। दरअसल, IIM इंदौर के प्रोफेसर पीके चांदे ने एक सीलिंग फैन बनाया है जो सुसाइड केसों में कमी ला सकता है।
प्रोफेसर चांदे के अनुसार, ‘जब कोई भी व्यक्ति इस फैन से लटककर जान देने की कोशिश करेगा तो, ये पंखा खिंचकर नीचे आ जाएगा, जिससे सुसाइड करने वाले व्यक्ति के पैर जमीन पर आ जायेंगे और वह सुसाइड नहीं कर पाऐगा। प्रोफेसर ने बताया कि, फैन की इस विशेषता की वजह से इसे साफ करने में आसानी भी होगी।‘ 

चोट लगने के बाद इसे बनाने का आइडिया

प्रो. चांदे ने बताया कि, इस अनोखे पंखे को बनाने का ख्याल उन्हें उस वक्त आया जब उनके एक रिलेटिव सीलिंग फैन की सफाई करते समय नीचे जमीन पर गिर गए। जिस वजह से उन्हें काफी चोटें आईं। इस घटना के बाद ही उनके दिमाग में एक ऐसा फैन बनाने की विचार आया, जिसकी साफ-सफाई करने के लिए ऊपर न चढ़ना पड़े, साथ ही जो लोग पंखे से लटककर आत्महत्या करते हैं, उसे रोका जा सके।

कई दिनों की रिसर्च के बाद किया तैयार

प्रो. चांदे के अनुसार, ‘इस पंखे के निर्माण में उन्हें कई महीनों रिसर्च करनी पड़ी। जिसके बाद इसके दो मॉडल तैयार किए गए। जब इनमें सफलता मिली तब, इस पंखे का फाइनल मॉडल तैयार किया गया। अब इस पंखे का पेटेंट कराने की तैयारी की जा रही है।‘ 

बात करें प्रोफेसर डॉ. चांदे के अनुभव की तो इन्होंने आईआईएम इंदौर के अलावा एसजीएसआईटीएस, मेनिट भोपाल और एनएमआईएमएस जैसे इंस्टिट्यूट में भी डायरेक्टर के पद पर अपनी सेवाएं दे चुके है। इसके साथ प्रो. चांदे एक जापानी यूनिवर्सिटी में भी प्रोफेसर के पद पर काम कर चुके हैं एवं फिलहाल वे सीएस माइंड नाम से अपना स्टार्टअप भी चला रहे हैं। 

कैसे करता है काम?

प्रो. चांदे  पंखे की कार्यविधि के बारे में बताते हैं कि, ये सीलिंग फैन तीन मैकेनिकल सिस्टम के माध्यम से काम करता है। इसका पहला सिस्टम इलेक्ट्रिक कपलर, दूसरा ट्राई मोड्यूलर और तीसरा टेलीस्कोपिक है। वहीं बात करें इसके मेन सिस्टम की तो वो है मोड्यूलर लॉक। इसकी वजह से पंखा झटके की वजह से नीचे नहीं गिरेगा बल्कि तीन स्टेप्स में नीचे आऐगा। यह लॉक तीन बार खुलता है और वापस ऊपर जाकर बंद हो जाता है।   

गौरतलब है कि इस फैन का नाम प्रो. चांदे ने ‘सिम डिवाइस’ रखा है। जिसका पूरा अर्थ ‘सेफ ईजी इफेक्टिव मेंटेंनेंस ऑफ सीलिंग फैन’ है, क्योंकि यह  सुरक्षित एवं उपयोग करने में आसान है। वहीं बात करें इसकी कीमत की तो इसके सिस्टम की कीमत 400 से 500 रुपए तक है।