कॉल डिटेल ने खोला राज, खेत में मिला नरेश का कटा हुआ सिर: हत्या का खुलासा: पत्नी ने दो लाख में किया प्रेमी से पति की मौत का सौदा

January 13th, 2022

डिजिटल डेस्क जबलपुर। पनागर थाना क्षेत्र के ग्राम मचला में बुधवार को हुई नरेश मिश्रा की हत्या का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। नरेश की हत्या उसकी पत्नी ने अपने प्रेमी को दो लाख रुपए की सुपारी देकर कराई थी। पुलिस ने दोनों आरोपियों को िगरफ्तार करके जेल भेज िदया है। उल्लेखनीय है िक 11 जनवरी की दोपहर मचला िनवासी उषा मिश्रा ने अपने पति नरेश मिश्रा 40 वर्ष के 10 जनवरी की रात से लापता होने की सूचना थाने में दी थी, लेकिन 12 जनवरी को बेलखाड़ू रोड पर एक खेत में नरेश का कटा हुआ िसर और 100 मीटर दूर धड़ पड़ा मिला था। पुलिस ने अज्ञात लोगों पर हत्या का प्रकरण दर्ज कर जाँच शुरू की थी, जिसमें पता चला कि नरेश पेशेवर किसान था, जिसने कुछ समय पूर्व आधा एकड़ जमीन बेचकर एक बोलेरो खरीदी थी, जिसे वह टैक्सी के रूप में खुद चलाकर काम करता था।
कॉल डिटेल से खुला राज
पनागर थाना प्रभारी आरके सोनी के अनुसार मृतक नरेश के मोबाइल की कॉल डिटेल खँगाली गई, िजसमें 10 जनवरी की शाम 7 बजे उसके पास गाँव के अखिलेश उर्फ अक्कू विश्वकर्मा का फोन आया था, इसी तरह अक्कू ने देर रात नरेश की पत्नी उषा को भी फोन किया था। इसी वजह से पुलिस को दोनों पर संदेह हुआ और इसी आधार पर अक्कू को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने नरेश की हत्या करना कबूल कर ली। अक्कू ने बताया िक वर्ष 2019 में नरेश ने उसकी भाभी के साथ दुराचार का प्रयास किया था, तभी से वह नरेश से बदला लेने की िफराक में था। अक्कू ने बताया िक नरेश शराब पीने के बाद हर किसी से िववाद करता था और अपनी पत्नी उषा को भी आए िदन पीटता था, इसलिए उषा भी उससे तंग हो गई थी। इसी वजह से उसने उषा से दोस्ती की और िफर उनके प्रेम संबंध बन गए।
दो लाख रुपए देकर कराई हत्या
अक्कू के बयान पर पुलिस ने नरेश की पत्नी उषा को हिरासत में लिया। जिसमें उसने बताया िक नरेश आए िदन शराब पीकर उसे पीटता था, लेकिन वह सब कुछ सहती रहती थी, लेकिन जब उसे पता चला कि नरेश के किसी और महिला से भी संबंध हैं, तो उसने अक्कू िवश्वकर्मा को दो लाख रुपए की सुपारी देकर नरेश की हत्या के लिए तैयार किया।
गर्दन काटने के लिए पत्नी ने दिया फरसा
उषा ने अक्कू को दो लाख रुपयोंं के साथ नरेश की गर्दन काटने के लिए एक फरसा भी दिया था। योजना के अनुसार 10 जनवरी की रात अक्कू ने नरेश को फोन करके शराब पीने के लिए बुलाया और श्याम मिश्रा के खेत में ले जाकर नरेश को ज्यादा शराब पिलाने के बाद उसकी गर्दन काटकर अशोक पटेल के खेत में ले जाकर फेंक दिया। अक्कू ने नरेश का िसर सुखचैन के खेत में इसलिए फेंका था, क्योंिक नरेश और सुखचैन का पुराना िववाद था इसलिए पुलिस सुखचैन को पकड़ ले। नरेश की हत्या के बाद देर रात अक्कू ने उषा को फोन करके जानकारी दी थी। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त फरसा, 2 मोबाइल फोन के साथ अक्कू िवश्वकर्मा और उषा िमश्रा को िगरफ्तार कर जेल भेज िदया है।