comScore

नक्सलियों ने वन समिति अध्यक्ष को चौराहे पर सरेआम गोली मार कर मौत के घाट उतारा 

June 21st, 2019 18:04 IST
नक्सलियों ने वन समिति अध्यक्ष को चौराहे पर सरेआम गोली मार कर मौत के घाट उतारा 

डिजिटल डेस्क, बालाघाट। यहां नक्सलियों ने वन समिति अध्यक्ष 48 वर्षीय ब्रजलाल पंद्रे को सरेआम गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया । सूत्रों के अनुसार पिछली रात मृतक ब्रजलाल के घर करीब बीस की संख्या में नक्सली पहुंचे और उसे घसीटकर गांव के चौराहे पर लाए जहां सबके सामने उसे गोलियों से भून दिया । नक्सलियों में दो महिलाएं भी थी । वारदात के बाद नक्सलियों ने वहां परचे भी फेके जिसमें ब्रजलाल को पुलिस का मुखबिर बताया गया है । परचा में लिखा है कि ब्रजलाल पुलिस का मुखबिर है इसलिए उसे मौत की सजा दी जा रही है । बताया जाता है कि ब्रजलाल पूर्व में नक्सलियों के साथ था और नक्सली जीवन त्यागकर समाज की मुख्यधारा से जुड़कर सामान्य जीवन जी रहा था । एक नक्सली का आम आदमी बन जाना शायद सक्रिय नक्सलियों को गवारा नहीं हुआ और उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया । यह नक्सली वारदात पुलिस के लिए चुनौती है किंतु इसके बाद भी पुलिस के आला अफसर इस मामले में कुछ भी कहने से बचते रहे । घटना स्थल नक्सली कोर एरिया के अंतर्गत आता है इसलिए अभी तक वहां पुलिस टीम नहीं पहुंची है । गांव वाले ही मृतक को अस्पताल लेकर आए है । 

सूत्रों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार  बालाघाट जिले के लांजी क्षेत्र अंतर्गत चौरिया पितकोना में बीती रात 9 से 10 बजे के बीच नक्सलियों ने वन समिति अध्यक्ष ब्रजलाल पंद्रे की हत्या कर दी। 48 वर्षीय ब्रजलाल पिता पवन पूर्व में नक्सली संगम सदस्य था, जिसके बाद नक्सलियों से अलग होकर वह अपना जीवन आम आदमी की तरह व्यतीत कर रहा था और वर्तमान में वन समिति का अध्यक्ष था। 

हत्या के बाद पर्चे फेके , मृतक को बताया पुलिस का मुखबिर 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ब्रजलाल की हत्या के अलावा नक्सलियों ने वहां पर्चे भी फेंके है जिसमें ब्रजलाल को पुलिस का मुखबिर बताया गया है। बहरहाल इस मामले में अब तक पुलिस ने नक्सलियों द्वारा गोली मारे जाने की पुष्टि तो नहीं की है लेकिन पुंलिस का कहना है कि ग्रामीणों से मिली जानकारी में बताया गया है कि ब्रजलाल टेकाम की नक्सलियों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। 

गोलमोल जबाब दे रही पुलिस 

बहरहाल घटनास्थल के पास स्थित पुलिस चौकी में मृतक के शव को लाने के बाद उसका पोस्टमार्टम करवाया जायेगा। घटना के बाद से पुलिस ने जिले के नक्सली क्षेत्रो में अपनी सर्चिंग बढ़ा दी है। वन समिति अध्यक्ष की गांव में पहुंचकर नक्सलियों द्वारा हत्या किये जाने की घटना ने जंगल में नक्सलियों की आमद की खबर भी पुलिस के लिए चिंता बढ़ाने वाली है। बहरहाल इस मामले में आईजी से लेकर एसडीओपी तक मामले में अभी कोई बयान जारी करने से इंकार कर रहे है, हालांकि उन्होंने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि ब्रजलाल की गोली मारकर हत्या किये जाने की घटना हुई है। जिसकी जांच की जा रही है।
 

कमेंट करें
gpD0n