दैनिक भास्कर हिंदी: स्थानीय पुलिस पर नहीं है विश्वास, गैंग रेप की जांच के लिए एसआईटी गठित 

August 26th, 2019

डिजिटल डेस्क, सतना। कोलगवां थाना अंतर्गत पुरैनी मोड़ पर पति को बंधक बनाकर पत्नी के साथ दो लोगों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म के सनसनी खेज मामले की जांच के लिए पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने एसआईटी गठित कर दी है,जिसकी अगुवाई अजाक डीएसपी रामखिलावन शुक्ला करेंगे। इस टीम में मुख्यालय डीएसपी प्रभा किरण कीरो,सिविल लाइन टीआई अर्चना द्विवेदी, बाबूपुर चौकी प्रभारी एनएन मिश्रा और कोलगवां थाने की सहायक उपनिरीक्षक सरला शर्मा को शामिल किया गया है। इस टीम को एक सप्ताह में जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए गए हैं।

क्या है मामला

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक 26 वर्षीय पीडि़ता ने अपने बयान में बताया कि 24 अगस्त की सुबह पति के साथ मोटर साइकिल पर सवार होकर भरजुना देवी मंदिर जा रही थी। तकरीबन साढ़े 8 बजे जब बाइक पुरैनी मोड़ पर पहुंची तब तीन मोटर साइकिलों से आए 5 लोगों ने रास्ता रोक लिया। इससे पहले की दोनों कुछ समझ पाते,उक्त आरोपियों ने उन्हें पकड़ लिया और फिर दो लोग पीडि़ता को घसीट कर टूटे फूटे घर में ले गए जहां उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। इधर पति ने प्रतिरोध किया तो एक आरोपी ने पेट में चाकू मार दिया। ज्यादती करने के बाद पांचों आरोपी धमकी देकर भाग निकले। तब राहगीरों की मदद से पीडि़त दंपति जिला अस्पताल आ गए । यह खबर मिलते ही बाबूपुर चौकी प्रभारी बयान लेने अस्पताल पहुंच गए तो कुछ देर बाद टीआई आरपी सिंह भी आ गए लेकिन पीडि़त दंपति ने कोलगवां व बाबूपुर चौकी की पुलिस पर अविश्वास जताते हुए राज्य पत्रित अधिकारी से जांच कराने की मांग रख दी। ऐसे में डीएसपी प्रभा किरण कीरो व सिविल लाइन टीआई अर्चना द्विवेदी को पुलिस कप्तान द्वारा जांच के निर्देश दिए गए। पीडि़ता और उसके पति के बयान पर आरोपी डिम्पल सिंह समेत 5 के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (डी),294, 341,324 और एससी एसटी एक्ट की धारा 3(2) (5) के तहत कायमी की गई। फिलहाल किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं की गई है।