comScore

चाइना कोल कंपनी को नोटिस- वर्टिकल शॉफ्ट के निर्माण पर रोक ,भारतीय मजदूरों की बहाली तक काम नहीं कर पाएगी

चाइना कोल कंपनी को नोटिस- वर्टिकल शॉफ्ट के निर्माण पर रोक ,भारतीय मजदूरों की बहाली तक काम नहीं कर पाएगी

डिजिटल डेस्क  बालाघाट । मैगनीज ओर इंडिया लिमिटेड की भरवेली खदान में भारतीय मजदूरों को काम पर नहीं लेने के मामले में केन्द्रीय इस्पात मंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते द्वारा मॉइल प्रबंधन से जवाब-तलब करने के बाद शनिवार को चाइना कोल 3 कंपनी को बंद करा दिया गया है। वहीं मॉइल प्रबंधन ने भी सख्त रुख अख्तियार किया हैं। मॉइल प्रबंधक उम्मेद सिंह भाटी ने कंपनी को नोटिस जारी किया है। कहा कि अंडर ग्राउंड वॉटर निकालने के काम को छोड़कर ग्लोबल निविदा के तहत उन्हें दिया गया मॉइल में नवनिर्मित वर्टिकल शॉफ्ट के निर्माण का कार्य रोक दिया जाए। मालूम हो कि मॉइल की भरवेली खदान में प्रस्तावित हाई स्पीट वर्टिकल शाफ्ट के निर्माण का कार्य चीनी कंपनी चाइना कोल 3 को मिला था।
कंपनी ने मार्च 2019 से मॉइल में कार्य को 40 चीनी और 60 से अधिक भारतीय श्रमिकों के साथ काम शरू किया था। लॉकडाउन के दौरान काम बंद कर दिया गया था। दस दिन पूर्व जब कंपनी ने काम फिर प्रारंभ किया तो कोरोना संक्रमण के फैलने के नाम पर भारतीय श्रमिकों को काम पर बहाल नहीं किया गया। इससे श्रमिकों और स्थानीय लोगों में आक्रोश है।  मॉइल प्रबंधन ने मामले में  कंपनी से पत्राचार भी किया। हालांकि चीनी कंपनी के प्रबंधन ने फिलहाल श्रमिकों की बहाली को लेकर असमर्थता जताई।
इनका कहना है
मॉइल की बालाघाट खान में कार्यरत चाइना कोल 3 को निर्देशित किया गया है कि जब तक वे भारतीय मजदूरों को कार्य पर वापस नहीं लेते हैं, तब तक वे अपना सभी कार्य बंद कर दें। कंपनी चाहे तो स्थानीय श्रमिकों को बहाल कर अपना कार्य प्रारंभ कर सकती है।
-उम्मेद सिंह भाटी, प्रंबंधक मॉयल

 

कमेंट करें
rXbqN