comScore

कंजई क्वारेंटाइन सेंटर से भागे दो लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कंजई क्वारेंटाइन सेंटर से भागे दो लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार


डिजिटल डेस्क बालाघाट। कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से बचाव और सावधानी को लेकर पूरे जिले में आगामी 14 अप्रैल तक लॉक डाउन है, यही नहीं बल्कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रशासन द्वारा जिले की समस्त सीमाओं को सील कर दिया गया है ।  बाहर से आने वाले जिले के लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर में रखा जा रहा है। इसी के चलते जिले के लालबर्रा थाना अंतर्गत कंजई में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय को क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। जहां विगत 7 अप्रैल से लगभग 17 लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया था। जहां से 8 अप्रैल की रात दो लोग शाला की पीछे की दिवार फांदकर भाग गये।
    जिसकी जानकारी मिलने के बाद क्वारेंटाइन सेंटर की जिम्मेदारी संभाल रहे सहायक नोडल जनपद पंचायत लालबर्रा के सब इंजीनियर भानुप्रताप धार्मिक ने क्वारेंटाइन सेंटर से भागे रामपायली थाना अंतर्गत नवेगांव के ग्राम बिटोड़ी निवासी महेश पिता धनलाल उपवंशी और निलेश पिता सावनलाल नगपुरे के खिलाफ लालबर्रा थाने में शिकायत दर्ज की। कोरोना संक्रमण की संभावना को दृष्टिगत रखते हुए आश्रय स्थल में रखे गये 17 लोगों में दो लोगों के भाग जाने से अन्य व्यक्तियों को संक्रमण बढऩे का खतरा पैदा हो गया था। जिसके चलते मध्यप्रदेश महामारी एक्ट के अंतर्गत इनके विरूद्ध की गई शिकायत पर लालबर्रा पुलिस ने धारा 188, 269, 271 एवं 34 भादंसं. के तहत अपराध कायम कर जांच में लिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए लालबर्रा थाना प्रभारी मंशाराम रोमड़े ने भागे गये व्यक्तियों के बारे में रामपायली थाने को सूचित किया और उनकी खोजबीन शुरू की।   क्वेंरटाईन सेंटर से भागे दोनों लोग अपने गांव पहुंच गए।  जहां से पुलिस ने पकड़कर कंजई क्वेरंटाईन सेंटर में भिजवा भेजा है। 

कमेंट करें
6FOXV