comScore

निजी हॉस्पिटल संक्रमितों के लिए सुरक्षित रखें 20 बेड

निजी हॉस्पिटल संक्रमितों के लिए सुरक्षित रखें 20 बेड

डिजिटल डेस्क जबलपुर। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये पूरी तरह तैयारी रहे, 5 िनजी अस्पताल पूरी तरह और हर हॉस्पिटल के 20 बेड कोरोना वायरस से पीडि़त मरीजों के लिये सुरक्षित रखे जायेंगे। कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिये गठित समिति के साथ बैठक में संभागायुक्त महेशचंद्र चौधरी ने यह बात कही। कमिश्नर कार्यालय में हुई बैठक में आगे की कार्ययोजना पर विचार-विमर्श किया गया और आवश्यक दिशा-निर्देश िदये गए। बैठक में कहा गया कि शासकीय और निजी चिकित्सालय फीवर क्लीनिक स्थापित करें और बुखार वाले मरीजों की जानकारी स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन को दी जाए। संभागायुक्त ने निर्देश दिए कि एसडीएम, सीएसपी और तहसीलदार की समिति निरीक्षण कर देखे कि फीवर क्लीनिक प्रारंभ हुए हैं या नहीं तथा उनके द्वारा नियमित जानकारी दी जा रही है या नहीं। सभी निजी चिकित्सालय और क्लीनिक सोशल डिस्टेंसिंग तथा सेनिटाइजेशन के नियमों का पालन करते हुए खुलें। बैठक में आईजी भगवत सिंह चौहान, डीआईजी मनोहर वर्मा, कलेक्टर भरत यादव, एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, अपर कलेक्टर संदीप जीआर, सीईओ प्रियंक मिश्र, डीन डॉ. पीके कसार, सीएमएचओ डॉ. मनीष मिश्रा आदि मौजूद रहे। 
हाईरिस्क लोगों को किया जाए क्वारंटीन
 कंटेनमेंट जोन में रहने वाले तथा कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने वाले स्वास्थ्य की दृष्टि से हाईरिस्क कोरोना संक्रमण के संदिग्ध व्यक्ति शासन द्वारा स्थापित क्वारंटीन सेंटर में रखे जाएँ। कोरोना पॉजिटिव मरीज के निकट संपर्क वाले व्यक्तियों के सैम्पल क्वारंटीन सेंटर से ही एकत्र किए जाएँ। कलेक्टर ने कहा कि आशा कार्यकर्ता, आँगनबाड़ी कार्यकर्ता और अन्य मैदानी कर्मचारी होम क्वारेंटीन व्यक्तियों के घरों में नियमित जाकर स्वास्थ्य संबंधी जानकारी सतत् रूप से हासिल करते रहें।
 

कमेंट करें
zXRwt