अनुराग बोले : स्वच्छ भारत अभियान का उद्देश्य महात्मा गांधी के सपने को पूरा करना हैं

October 12th, 2021

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केन्द्रीय युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान का उद्देश्य राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सपने को पूरा करना है। इस अभियान के माध्यम से हम न केवल स्वच्छ भारत अभियान का आयोजन कर रहे हैं, बल्कि स्वच्छ और स्वस्थ परिवेश के बारे में जागरूकता भी पैदा कर रहे हैं। ठाकुर ने मंगलवार को हुमायूं के मकबरे में स्वच्छ भारत अभियान में शिरकत करते हुए यह बात कही। यह कार्यक्रम मुख्य रूप से प्लास्टिक कचरा इकट्ठा करने एवं हटाने के युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय के महीने भर के स्वच्छता अभियान के हिस्से के रूप में आयोजित किया गया था। मंत्रालय ने नागरिकों की स्वैच्छिक भागीदारी के साथ 1 से 31 अक्टूबर 2021 तक 75 लाख किलोग्राम कचरे, मुख्य रूप से प्लास्टिक कचरे को इकट्ठा करने का लक्ष्य रखा है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि अभियान के पहले 10 दिनों में पूरे देश में 30 लाख किलोग्राम कचरा एकत्र किया गया। उन्होने देशवासियों से अपील की कि वे सड़कों और उद्यानों में चिप्स के रैपर एवं प्लास्टिक की बोतलें तथा अन्य कचरा न फेंके और इस तरह अपने आसपास कचरा न फैलाएं। उन्होने कहा कि जिस तरह हम अपने घरों में साफ सफाई रखते हैं, उसी तरह सार्वजनिक स्थानों पर स्वच्छता बनाए रखना हमारी जिम्मेदारी है। 
 

किसानों की आय दो गुना ही नहीं अपितु कई गुना बढ़ सकती है

उधर केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि किसानों की आय दो गुना ही नहीं अपितु कई गुना बढ़ सकती है, यदि खेती का लागत मूल्य कम हो और उन्हें अपनी फसल का उचित दाम मिले। लेकिन यह तभी संभव है जब गौपालन और कृषि को जोड़ा जाये और गोबर और गौमूत्र पर आधारित खाद और कीटनाशकों का उपयोग हो। ग्रामीण विकास मंत्री नाेएडा मंगरौली गांव के आद्या ऑर्गेनिक फार्म में सागर, मध्य प्रदेश के जैविक कृषि वैज्ञानिक आकाश चौरसिया के सात दिवसीय मल्टीलेयर फार्मिंग के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि एक ही प्लाट से कई तरह के फसलें उगाने से किसानों की आमदनी निश्चित रूप से कई गुना बढ़ेगी, लागत भी कम आयेगी और पानी की खपत भी कम हो जायेगी। उन्होने कहा कि इससे एक ओर तो किसानों की आय कई गुनी हो जायेगी, वहीं दूसरी ओर जनता को विषमुक्त अन्न और सब्जियां प्राप्त होंगीं। मल्टीलेयर फार्मिंग के जनक आकाश चौरसिया ने बताया कि मल्टीलेयर कृषि से फसलों की रक्षा अत्यधिक गर्मी और कड़कती ठंडक से भी होगी और खर-पतवार और कीट-पतंगों से भी उनका बचाव होगा। सबसे बडी बात यह है कि पांच फसलें एक साथ होने से किसानों को हर माह कुछ न कुछ आर्थिक लाभ होता ही रहेगा।

कांग्रेस शासित राज्यों में मानवाधिकार हनन पर चुप क्यों है गांधी परिवार : भाजपा

भाजपा ने मानवाधिकार हनन को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है और आरोप लगाया है कि इस मामले में पार्टी दोहरा मापदंड अपनाती है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने यहां पूछा कि कांग्रेस शासित राज्यों में मानवाधिकार हनन पर गांधी परिवार चुप क्यों है? संबित पात्रा ने कहा, ‘उत्तरप्रदेश में किस प्रकार की राजनीति करने की कोशिश हो रही है। मैं फिर कहता हूं कि लखीमपुर खीरी में जो हुआ, वह दुखद है और उस पूरे मामले में जांच चल रही है, लेकिन कुछ राजनीतिक पार्टियां वहां पर वोट की खेती करने की कोशिश कर रही हैं खासकर गांधी परिवार। राजस्थान की घटना का जिक्र करते हुए पात्रा ने कहा कि प्रिंयका जी और राहुल जी आज अपने आप को मानव अधिकार के चैंपियन के तौर पर प्रस्तुत कर रहे हैं, लेकिन राजस्थान के हनुमान गढ़ में प्रेमपुरा गांव में कुछ दिन पहले जगदीश मेघवाल नाम के युवा को पीटकर बेरहमी से मार दिया गया और उसके मृत शरीर को उसी के घर के सामने फेंक दिया गया। आखिर राजस्थान में इतना बड़ा जघन्य अपराध क्यों हो जाता है? क्या आपने राहुल, प्रियंका या अखिलेश यादव को वहां जाते हुए देखा। बंगाल के किसी नेता को वहां जाते हुए देखा, नहीं देखा, किसी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट नहीं किया’। भाजपा प्रवक्ता ने झारखंड और महाराष्ट्र की कुछ घटनाओं का भी जिक्र किया। उन्होने कहा कि डोंबीवली में एक महिला के साथ गैंगरेप हुआ, नागपुर में एक महिला के साथ रेप हुआ है, साकीनाका में घटना घटी। महाराष्ट्र में आघाड़ी सरकार लोगों पर डंडे बरसा रही है, लेकिन एक बार भी उन्होने महिलाओं के अधिकार के लिए आवाज नहीं उठाई।
 

 

 

खबरें और भी हैं...