• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • The effect of monsoon break, the water level of Bargi dam started decreasing in the rainy season itself

दैनिक भास्कर हिंदी:  मानसून ब्रेक का असर, बारिश के सीजन में ही घटने लगा बरगी बाँध का जलस्तर 

July 5th, 2021

मौसम -10 जून को मण्डला, डिण्डौरी में हुई बारिश के बाद पानी आना शुरू हुआ, अब तेजी से हो रहा वाष्पीकरण
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
मानसून का लंबा ब्रेक चिंता की लकीरें पैदा कर रहा है। गर्मी व उमस से लोगों की हालत खराब है तो बारिश थमने से बरगी बाँध का जल भी घटने लगा है। बाँध के जल भराव वाले एरिया में कुछ दिनों से पानी नहीं गिरने से बाँध का जलस्तर बीते कुछ दिनों के अंदर 10 सेण्टीमीटर तक घट गया है।  10 जून को जब मानसून समय से पहले पूर्वी मध्य प्रदेश के जिलों में आया तो इसी के साथ बाँध में बारिश का पानी आना शुरू हो गया। 414.85 मीटर पर जो स्तर था वह कुछ दिनों में बढ़कर 415.25 मीटर पर पहुँच गया, लेकिन बारिश थमने के बाद यह अब 415.15 मीटर पर पहुँच गया है। बाँध का जल प्रबंधन देखने वाले रानी अवंती बाई सागर परियोजना के उपयंत्री राजाराम रोहित कहते हैं कि बाँध में अभी बारिश का पानी बिल्कुल भी नहीं आ रहा है। कुछ दिनों से बाँध में वाष्पीकरण तेजी से हो रहा है। आमतौर पर इन दिनों जलस्तर बढ़ता है जो इन दिनों घट रहा है। 
इस वजह से सबकी नजर 
बरगी बाँध नर्मदा नदी में बना पहला बाँध है। इसके भर जाने के बाद नर्मदा में बने सभी बाँधों के जलस्तर में सुधार हो जाता है। बरगी बाँध से  जो पानी पॉवर जनरेशन के बाद नर्मदा में छोड़ा जाता है उससे नर्मदा का स्तर, फ्लो बढ़ता है। सिंचाई, विद्युत उत्पादन, पेयजल के लिहाज से करीब 20 जिलों की जरूरतों को पूरा करता है। जबलपुर में ही पेयजल की 85 फीसदी आपूर्ति नर्मदा से होती है और नर्मदा को बड़ी मात्रा में पानी बाँध से ही मिलता है। 
बारिश का इंतजार 
इधर मानसून सुस्त पडऩे के साथ किसान चिंतित हैं। धान का लगाया हुआ रोपा तक सूख रहा,  बुवाई थमी है। मक्का बुवाई के बाद पानी की कमी से सही तरीके ग्रोथ नहीं पकड़ पा रहा है। खरीफ की फसलों पर पानी का संकट है। एक्सपर्ट का मानना है कि कुछ दिन यही हाल रहा तो धान और मक्का की पैदावार तक में असर हो सकता है। रविवार को सुबह से शहर में बादल छाये और दोपहर तक लगा कि कुछ बारिश भी हो सकती है लेकिन शाम आते-आते धूप खिली जिससे उमस भरी गर्मी बढ़ गई। इस तरह एक दिन और बिना बारिश के बीत गया। रविवार को शहर का अधिकतम तापमान 33.8 डिग्री से. रहा, जो सामान्य रहा। न्यूनतम तापमान 26 डिग्री रहा, जो सामान्य से एक डिग्री अधिक रहा। शहर के आसपास अभी दक्षिण-पश्चिमी हवाएँ सक्रिय हैं। अगले 24 घंटों में गरज-चमक के साथ कुछ बारिश की संभावना बनी हुई है।  
 

खबरें और भी हैं...