• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • The samples will be taken at the airport of the person coming to Jabalpur by air from the cities of Maharashtra.

दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र के शहरों से हवाई यात्रा कर जबलपुर आने वाले व्यक्ति के विमानतल पर ही लिए जाएंगे सेम्पल

March 16th, 2021


डिजिटल डेस्क जबलपुर । कलेक्टर  कर्मवीर शर्मा ने आज अपने निवास से जूम मोबाइल एप के जरिये स्वास्थ विभाग राजस्व विभाग एवं नगर निगम के अधिकारियों की बैठक लेकर कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये हर जरुरी कदम उठाने के निर्देश दिये हैं । ज्ञात हो कि श्री शर्मा कल कोरोना पॉजिटिव पाये गये थे । इसके बावजूद वे स्थिति पर लगातार नजर रखे हुए हैं। उन्होंने आज वर्चुअल मीटिंग लेकर अधिकारियों से जिले के वर्तमान हालात पर चर्चा की तथा संक्रमण और न फैले इसके लिये हर संभव उपाय अपनाने पर जोर दिया ।
कलेक्टर ने बैठक में कहा कि पूर्व में कोरोना से निपटने जिस स्तर पर हमारी तैयारी थी उसी स्तर पर हमें फिर से जाना होगा। उन्होंने कहा कि जहां सख्ती बरतना जरूरी है वहां सख्ती भी बरती जाए लेकिन संक्रमण के प्रसार पर काबू पाना हमारी प्राथमिकता होना चाहिए। श्री शर्मा ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकरणों को देखते हुये पॉजिटिव मरीजों के घर जाकर कॉटेक्ट ट्रेसिंग करने के निर्देश देते हुये कहा कि पॉजिटिव मरीजों के परिवार के सदस्यों को भी अनिवार्य रूप से होम क्वारन्टीन किया जाए। श्री शर्मा ने होम आईसोलेशन में रहकर स्वास्थ लाभ ले रहे कोरोना मरीजों की सेहत पर प्रतिदिन वीडियो कॉलिंग के जरिए नजर रखने की बात भी कही ।
कलेक्टर ने वर्चुअल मीटिंग में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने आम नागरिकों को जागरूक करने पर भी बल दिया । उन्होंने कहा कि दुकानदारों से भी कहा जाए कि वे अपनी दुकान के भीतर बिना मास्क लगाए ग्राहकों को प्रवेश न दें तथा दो गज की दूरी के नियम का भी कड़ाई से पालन करें। श्री शर्मा ने कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वाले लोगों पर सख्ती बरतने की हिदायत भी अधिकारियों को दी। उन्होंने कहा कि नागरिकों को मास्क पहनने, फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करने, अनावश्यक घर से बाहर न निकलने तथा भीड़ का हिस्सा न बनने की समझाइश भी दी जाये ।
श्री शर्मा ने रेलवे स्टेशन और विमानतल पर आने वाले हर यात्री की स्क्रीनिंग करने के निर्देश भी बैठक में दिये तथा नागपुर और महाराष्ट्र से आने वाले लोगों को सात दिन के लिए होम क्वारन्टीन करने के शासन के निर्देशों का कड़ाई से पालन करने की हिदायत दी । उन्होंने महाराष्ट्र के शहरों से हवाई यात्रा कर जबलपुर आने व्यक्ति के विमानतल पर ही सेम्पल लेने के निर्देश भी वर्चुअल मीटिंग में दिए ।
कलेक्टर ने कहा कि नागपुर और महाराष्ट्र से आने वाले लोगों को होम क्वारंटीन के दौरान लक्षण दिखाई देने पर नजदीकी फीवर क्लीनिक जाकर कोरोना की जांच करने की सलाह दी जाये। श्री शर्मा ने बैठक में सेम्पल साइज बढ़ाने पर जोर दिया। उन्होंने कोरोना की रोकथाम के लिए पूर्व में राजस्व एवं स्वास्थ्य विभाग तथा नगर निगम के अमले की वार्डवार गठित की गई टीमों को पुन: सक्रिय करने के निर्देश दिये। उन्होंने कोरोना कंट्रोल रूम के जरिये उन क्षेत्रों को चिन्हित करने पर बल दिया जहां से ज्यादा संख्या में कोरोना के मरीज आ रहे हैं ताकि ऐसे क्षेत्रों में ज्यादा सावधानी बरती जा सके। श्री शर्मा ने पॉजीटिव आये व्यक्तियों के घरों को सेनिटाइज करने के निर्देश भी दिये।
कोरोना वेक्सीनेशन की प्रगति की समीक्षा भी की-
कलेक्टर ने वर्चुअल मीटिंग में स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ कोरोना वेक्सीनेशन में हुई प्रगति का ब्यौरा भी लिया। उन्होंने कहा कि कोरोना के टीके का दूसरा डोज कोई भी फ्रंट लाइन वर्कर न छूटे यह हर हाल में सुनिश्चित किया जाये। श्री शर्मा इसके लिए राजस्व, पुलिस, जिला पंचायत एवं जनपद पंचायत, होमगार्ड तथा अन्य संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने टीके लगवाने बड़ी संख्या में आ रहे लोगों को देखते हुए कोरोना वेक्सीनेशन के लिए वेक्सीनेशन सेंटर की संख्या बढ़ाने की जरूरत भी बताई। उन्होंने वेक्सीन की उपलब्धता की जानकारी भी बैठक में दी।
आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य को गति प्रदान करें-
कलेक्टर श्री शर्मा ने वर्चुअल मीटिंग में आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य की समीक्षा भी की। उन्होंने शेष सभी पात्र व्यक्तियों के कार्ड बनाने ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में शिविरों की संख्या बढ़ाने एवं इनका व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने के निर्देश भी दिये। कलेक्टर ने कहा कि ड्यूटी लगाने के बावजूद आयुष्मान कार्ड बनाने के शिविरों से अनुपस्थित रहने वाले कामन सर्विस सेंटर के पंजीयन निरस्त करने की कार्यवाही की जाये।  जूम मोबाइल एप के जरिए संपन्न हुई वर्चुअल मीटिंग में अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित, सीएमएचओ डॉ. मनीष मिश्रा, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एस एस दाहिया, सभी बीएमओ तथा नगर निगम के अधिकारी शामिल थे।

खबरें और भी हैं...