दैनिक भास्कर हिंदी: एक दर्जन वाहन के साथ तीन गिरफ्तार, सतना से आकर देते थे वारदात को अंजाम

February 23rd, 2021

डिजिटल डेस्क कटनी । वाहन चोरी करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जिनके कब्जे से चोरी के एक दर्जन दो पहिया वाहन बरामद हुए हैं। लगातार वाहन चोरी होने की घटनाएं सामने आने के बाद पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी के निर्देश पर टीम गठित करके कोतवाली टीआई विजय विश्वकर्मा ने पतासाजी के लिए लगाया था। इसी बीच सीसी टीवी फुटेज खंगालने में संदिग्ध व्यक्ति की तस्वीर सामने आई थी।  आरोपी की तलाश कोतवाली क्षेत्र में मिशन चौक, चांडक चौक, घंटाघर, खिरहनी फाटक, बरही नाका यूनियन बैक, गांधी द्वार, नगर निगम आदि स्थानों मे लगातार की जा रही थी। इसी दौरान जिला सतना से संदेही के नाम पता संबंधी जानकारी प्राप्त हुई। उसके परिजनो का मोबाइल नंबर की जानकारी लेकर सायबर सेल की सहायता से लोकेशन टे्रस की गई और संदेही को उसके दो साथियों के साथ रेल्वे स्टेशन कटनी प्लेट फार्म नंबर पांच के बाहर से पकड़ा गया। आरोपियों ने पुलिस को अपना नाम पता क्रमश: आशीष उर्फ मंजा सोलंकी पिता हेमप्रकाश सोलंकी निवासी जेपी विद्यापीठ के पास सतना, आनंद उर्फ  नंदू पिता गणेश प्रसाद कुशवाहा निवासी ग्राम पौड़ी थाना नागौद जिला सतना व राजू रजक पिता देवराज रजक निवासी ग्राम जमुना थाना रामपुर बघेलान बताया। आरोपियों ने कोतवाली थाना क्षेत्र से 11 व माधवनगर थाना क्षेत्र से एक दो पहिया वाहन चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों ने बताया कि वे पहले सार्वजनिक स्थलों पर जाकर रैकी करते थे और मौका पाकर वाहन का लॉक तोडकऱ चोरी कर लेते थे। चोरी के वाहनों को बेचने की बजाय आरोपी गिरवी रख देते थे। आरोपी आशीष उर्फ मंजा ने बताया कि वह चाय की दुकान चलाता था जिससे उसे कम आय होती थी इसलिए उसने वाहन चोरी करने का रास्ता इख्तियार किया। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 12 मोटरसाइकिलें बरामद करने के साथ ही उन्हें न्यायलय में पेश किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने वाहन चोरी की वारदातों से पर्दा उठाने वाली पुलिस टीम को 10 हजार रूपए नगद पुरूस्कार देने की घोषणा की है।
 

खबरें और भी हैं...