comScore

नाबालिक से मामा ने किया दुराचार - पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

नाबालिक से मामा ने किया दुराचार - पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

डिजिटल डेस्क बालाघाट/चिखलाबांध। वारासिवनी अनुभाग के खैरलांजी थाना क्षेत्र अंतर्गत रिश्तों को शर्मशार करने वाली एक घटना सामने आई है। अपनी ही 10 वर्षीय भांजी से दुष्कर्म करने के आरोप में कलयुगी मामा को   पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 15 मई की सुबह हुई इस घटना के बाद पीडि़ता की शिकायत पर मामला दर्ज कर खैरलांजी पुलिस ने आरोपी मामा विलास बहेटवार पिता किशोर बहेटवार को घटना के कुछ घंटों बाद ही उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है आरोपी विलास पूर्व से आपराधिक प्रवृत्ति का है। जिसके खिलाफ पूर्व में भी अपराध दर्ज है।
बचपन से ही अपनी माँ के साथ अपने नाना के घर रहती है पीडि़त 
मिली जानकारी अनुसार पीडि़त मासूम बचपन से ही अपनी मां के साथ अपने नाना नानी के घर मे रह रही है। 15 मई की सुबह जब वह घर के बाहर स्थित बरगद के पेड़ के नीचे बकरी बांध रही थी। तभी पीडि़ता का मामा विलास बहेटवार आया और पीडि़ता का हाथ पकड़कर अंदर के कमरे में ले गया। जहां आरोपी ने पीडि़ता के साथ दुष्कर्म किया। जब पीडि़ता ने आरोपी की इस हरकत का विरोध किया तो आरोपी द्वारा पीडिता को किसी को भी कुछ बताने पर जान से मार देने की धमकी देकर डराया गया। इसी बीच पीडि़ता की मां द्वारा पीडि़ता को पुकारने पर आरोपी उसे छोड़कर भाग गया। घटना से आहत मासूम ने अपनी मां को घटना के बारे में बताया, जिसके बाद वह मां के साथ खैरलांजी पुलिस थाने पहुंची और आरोपी मामा विलास बहेटवार द्वारा उसके साथ किये गये दुष्कर्म की शिकायत दर्ज कराई गई। जिसमें पुलिस ने आरोपी विकास बहेटवार के खिलाफ शिकायत की गई। जहां पुलिस ने आरोपी विलास के खिलाफ धारा 376 एबी, 506 ताहि,5(एम)/6 पॉक्सो एक्ट के तहत मामला पंजीबद्व कर विवेचना में लिया था। मामले की विवेचना महिला उपनिरीक्षक प्रीति सिगोतियां द्वारा की जा रही थी।
आरोपी विलास भेजा गया जेल
रिश्ते में भांजी लगने वाली 10 वर्षीय नाबालिक से ज्यादती के इस मामले को गंभीरता से लेते हुए खैरलांजी पुलिस द्वारा आरोपी विलास की सरगर्मी से तलाश शुरू की गई और कुछ ही देर में आरोपी विलास बहेटवार को उसके घर से ही गिरफ्तार किया। खैरलांजी पुलिस द्वारा आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद बालाघाट के विशेष न्यायालय में पेश किया गया। जहां से न्यायालय द्वारा आरोपी को न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया ।

कमेंट करें
pDuch