दैनिक भास्कर हिंदी: ASI का रिश्वत लेते हुए वीडियो वायरल, SP ने ASI व आरक्षक को किया लाइन अटैच

June 29th, 2018

डिजिटल डेस्क, दमोह। देहात थानांतर्गत एक मारपीट के मामले में अपराध में धारा बढ़ाने के नाम पर ASI द्वारा पैसों की मांग किए जाने तथा अन्य सहयोगियों को भी पैसे दिए जाने का वीडियो वायरल हो गया था। मामले सामने आने पर पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल ने दोनों को लाइन अटैच करते हुए मामले की नगर पुलिस अधीक्षक एमपी प्रजापति को जांच के आदेश दिए है।

मामला इस प्रकार है
जिले के हटा थानांतर्गत ग्राम रसीलपुर से देहात थानांतर्गत ग्राम सूखी पिपरिया मेद्यराज पटेल के परिवार की बारात 25 जून को आई हुई थी, जिसमें शराब के नशे पर नाचने और डीजे बजाने को लेकर मारपीट हो गई थी। इसमें मेद्यराज पटेल को मामूली चोटें भी पहुंची थी। इस बात की रिपोर्ट मेद्यराज पटेल द्वारा देहात थाने करने जाने पर वहां पर ड्यूटी पर तैनात ASI राजाराम पवार द्वारा अपराध दर्ज करने के लिए पैसों की मांग की गई थी, जिस पर मेद्यराज 100 रुपए उसे दे रहा था। इस बात को लेकर ASI पवार ने कहा कि मेरी तरफ से न्यौछावर कर देना, इतने में कुछ नहीं होता है। इस पर फरियादी द्वारा 4 सौ रुपए दिए जा रहे थे, तब भी ASI ने कहा कि अभी कम्प्यूटर चलाने वाले को भी देने पड़ेंगे , कम से कम 500 रुपए तो दो। जिस पर उन्हें 500 रुपए लेते हुए और उसकी बातचीत को मोबाइल में रिकार्ड कर लिया।

इसके उपरांत ASI द्वारा मेद्यराज पटेल की रिपोर्ट पर सूखी पिपरिया निवासी राधेश्याम पटेल , खरगराम पटेल , लोकेन्द्र और श्रीमती शीतल पटेल के विरूद्ध मामला दर्ज कर पीड़ित को मुलाहजे के लिए भेज दिया, लेकिन इसके बाद फरियादी के साथी ने उक्त वीडियो को घटना के 4 दिन बाद वायरल कर दिए जाने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। मामले पर तत्काल ही पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल ने कार्रवाई करते हुए ASI राजाराम पवार एवं आरक्षक शुभम दुबे को लाइन अटैच कर दिया है।

इनका कहना है
इस मामले में पुलिस अधीक्षक द्वारा दोनों कर्मियों को लाइन अटैच करते हुए नगर पुलिस अधीक्षक को जांच के निर्देश दिए है। जांच रिपोर्ट आने के उपरांत कार्रवाई की जाएगी।
एमएल चौरसिया, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, दमोह