बीच मैदान में मारपीट : फुटबॉल का मैदान बना अखाड़ा, खिलाड़ियों समेत सपोर्ट स्टाफ भी बने खलनायक

November 28th, 2022

हाईलाइट

  • दोनों टीमों के कुल 6 खिलाड़ियों को मिला रेड कार्ड

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। फुटबॉल में अक्सर ऐसे मौके देखने को मिलते हैं जहां खेल इमोशन में बदल जाता है। इन इमोशन्स की वजह से कई बार इस खेल को शर्मसार भी होना पड़ता है। फुटबॉल के मैदान पर हल्की धक्का-मुक्की और बातचीत तो खिलाड़ियों में देखने मिलती ही रहती है। लेकिन कई बार ये छोटी-मोटी बातचीत बड़ी लड़ाई में बदल जाती है और खिलाड़ी आपस में ही भीड़ जाते हैं। लेकिन इस बार ना केवल खिलाड़ी बल्कि सपोर्ट स्टाफ भी बीच मैदान में मारपीट करने उतर गए। रविवार को खेले गए रशियन कप के एक मुकाबले के दौरान एक ऐसा ही वाक्या देखने को मिला। जहां दोनों टीमों के खिलाड़ी और कोच आपस में भीड़ गए बात इतनी आगे बढ़ गई कि फुटबॉल का मैदान अखाड़े में बदल गया। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। 

सपोर्ट स्टाफ भी उतरा अखाड़े में

दरअसल, यह वाक्या रूस में खेले जा रहे रशियन कप फुटबॉल में रविवार को जेनिट सेंट पीटर्सबर्ग और स्पार्टक मास्को के बीच खेले गए मुकाबले का है। क्रेस्टोवस्की स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में समय पूरा होने के बाद इंजरी टाइम (90+ मिनट) शुरु हुआ। जहां इस पूरे विवाद की शुरुआत हुई। इंजरी टाइम में स्पार्टक मास्को फ्री-किक ले रही थी। तभी मास्को के फॉरवर्ड खिलाड़ी क्विंसी प्रांम्स और सेंट पीटर्सबर्ग के मिडफील्डर विल्मर बैरियोस के बीच पहले कुछ बात-चित हुई और फिर दोनों ही खिलाड़ियों ने एक-दूसरे को धक्का दे दिया। इस वाक्ये के बाद दोनों ही टीमों के खिलाड़ी समेत सपोर्ट स्टाफ बीच मैदान में इक्कठा हो गए। फिर क्या था दोनों ही टीमों के खिलाड़ियों और स्टाफ ने इस मुकाबले को कुश्ती का मैच समझकर जमकर एक-दूसरे पर लात-घूसे बरसाए। 

छह खिलाड़ियों को मिले रेड कार्ड 

खिलाड़ियों के बीच हुई इस मारपीट को मैदान पर मौजूद रेफरी भी नहीं रोक सके। पूरे मामले के बाद रेफरी ने दोनों टीमों के कुल 6 खिलाड़ियों को रेड कार्ड देकर मुकाबले से बाहर कर दिया। लेकिन चौंकाने वाली बात यह रही कि जितने खिलाड़ियों को रेड कार्ड दिया गया वो सभी खिलाड़ी उस वक्त मैदान पर मौजूद नहीं थे। जिस वजह से पेनाल्टी शूट आउट के लिए मैदान पर पर्याप्त खिलाड़ी मौजूद थे। मुकाबले की बात करें तो यह मुकाबला पेनाल्टी शूट आउट तक गया था। जहां मेजबान टीम जेनिट सेंट पीटर्सबर्ग ने स्पार्टक मास्को को 4-2 से मात देकर अगले राउंड के लिए प्रवेश किया। 
 

खबरें और भी हैं...